प्रेरकों का अल्टीमेटम: 1 अगस्त तक वचन निभाए नहीं तो कांग्रेस कार्यालय का घेराव | SAKSHARTA PRERAK BHOPAL MEETING

भोपाल। देश में मानव संसाधन विकास मंत्रालय तहत साक्षर भारत मिशन मध्य प्रदेश में विगत वर्ष 2013 से संचालित था जिसमे निरक्षर प्रोढ़ को साक्षर करने हेतु रोस्टर पद्दति के आधार पर प्रदेश के 42 जिलो की ग्राम पंचायतो में संविदा आधार पर प्रतिमाह 2000 रु पर 2 प्रेरक (एक पुरुष/एक महिला) की नियुक्ति की गयी थी।

प्रेरकों के प्रयास से प्रदेश व देश की साक्षरता दर 19 प्रतिशत से बढ़कर लगभग 91 प्रतिशत हुयी है और मध्य प्रदेश को लगभग 3 बार राष्ट्रीय अवार्ड भी प्राप्त हुआ है। लगभग 6 वर्ष की प्रेरक सेवा लेंने के पश्चात विगत 31 मार्च 2018 को योजना बन्द का नाम देकर प्रेरको को बाहर करके, प्रेरक व प्रेरक परिवार के जीवन में जीवनयापन के लिए संकट की स्थिति पैदा हो चुकी है।

मध्य प्रदेश कांग्रेस कमिटी द्वारा विधान सभा निर्वाचन 2018 में अपने वचन पत्र क्र. 47.23 में प्रेरक शिक्षको की मांगो का निराकरण तीन माह में करने का वचन दिया है। कि अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो प्रेरक समस्या का निदान होगा। पर ज्ञात हो की मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार लगभग 8 माह से सुव्यवस्थित रूप से संचालित है पर आज दिवस तक प्रेरको की वाजिब मांग पर कोई निर्णय नही लिया गया है। 

अतः आज 18 जुलाई, सुबह 11 बजे मध्य प्रदेश के लगभग सेंकडो प्रेरक अपनी मांग व वचन पत्र के सन्दर्भ में आदर्श प्रांतीय संविदा प्रेरक शिक्षक संघ मध्य प्रदेश के तत्वाधान में चिनार पार्क भोपाल में प्रादेशिक बैठक गोपालदास बैरागी - राष्ट्रिय सचिव व प्रदेश संरक्षक, विनोद राठौर संगठनमंत्री - आस के मार्गदर्शन में व सुनिलसिंह राजपूत की उपस्थिति में सम्पन्न हुयी। जिसमे निर्णय लिए गए कि आदर्श प्रांतीय संविदा प्रेरक शिक्षक संघ म.प्र. का प्रदेश अध्यक्ष पद पर राजू जाट को मनोनीत किया गया। संगठन मजबूती हेतु प्रदेश संगठन का नवीनीकरण किया गया।  

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर कांग्रेस कमेटी प्रदेश अध्यक्ष व मुख्यमंत्री को कांग्रेस का वचन क्र. 47.23 याद दिलाने हेतु ज्ञापन का वाचन कांग्रेस कार्यालय सभागृह में कर प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष प्रकाश जैन को सौंपा गया। ज्ञापन में प्रेरकों द्वारा मांग की है कि आगामी दिनांक 1 अगस्त 2019 तक प्रेरको की मांग पुरी नही हुईं तो प्रदेश के 23 हजार प्रेरकों द्वारा प्रदेश कार्यालय कांग्रेस कमिटी भोपाल का घेराव किया जायेगा और जब तक प्रेरक हित में निर्णय नही लिया जायेगा तब तक प्रदेश के हजारो प्रेरक भोपाल में ही कांग्रेस कार्यालय पर डेरा डाले रहेंगे। 

प्रदेश उपाध्यक्ष ने प्रेरको को आश्वस्त किया की आपकी समस्या का निदान जल्द हो इसके लिए म.प्र.सरकार व कांग्रेस कमिटी प्रयासरत है।नवनिर्वाचित प्रदेश प्रमुख सुनीलसिंह राजपूत, प्रदेश संरक्षक गोपालदास बैरागी, प्रदेश कमेटी में प्रदेशाध्यक्ष राजू जाट सिरोही, प्रदेश उपाध्यक्ष अँजेश बमन्या, चरण विश्वकर्मा, नाजिमा खान, प्रदेश कोषाध्यक्ष कैलास वर्मा, प्रदेश महासचिव रंजिव राठौर, सतेंद्र बागरी, सह कोषाध्यक्ष रानू चौधरी, प्रदेश प्रवक्ता विकास पाठक, सीतराम अहिरवार, प्रचार प्रसारमंत्री ललित तिवारी, बालाराम चौहान आदि पदाधिकारी मनोनीत किये गये।