मप्र के सभी बांधों के किनारे रिसोर्ट बनाए जाएंगे, हनुमंतिया के रिजल्ट से उत्साहित सरकार | MP NEWS

भोपाल। खंडवा स्थित इंदिरा सागर बांध के हनुमंतिया टापू पर विकसित किए गए पर्यटन स्थल के बाद अब पर्यटन विभाग प्रदेश के कई दूसरे बांध पर रिसोर्ट डिवेलप करने जा रहा है। इसको लेकर विभाग ने तैयारियां शुरू कर दीं है। मध्यप्रदेश में पिछले 5 साल में 2 करोड़ पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है और इसके पीछे मुख्य वजह नए पर्यटन स्थलों को माना जाता है। 

2014 में मध्य प्रदेश आने वाले पर्यटन की संख्या 6 करोड़ 37 लाख थी। इन देसी और विदेशी सैलानियों की पहली पसंद धार्मिक स्थल और वाइल्ड लाइफ स्पॉट रहा है। ऐसे पर्यटकों को प्राकृतिक स्थानों पर ठहरने की व्यवस्था के लिए बांधों के नजदीक कॉटेज बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए खजुराहों के पास स्थित कुटनी डैम पर पर्यटन विभाग द्वारा रिसॉर्ट बनाया जा रहा है। 

विभाग के अधिकारियों का मानना है कि खजुराहो से करीब 12 किलोमीटर दूर बनाए जा रहे यह कॉटेज यहां पहुंचने वाले विदेशी सैलानियों को खूब रास आएंगे। इसी तरह शिवपुरी के मनीखेड़ा डैम पर भी रिसोर्ट बनाया जाएगा। इन दोनों स्थानों पर रिसोर्ट के अलावा अन्य एडवेंचर एक्टिविटी भी शुरू किए जाने की योजना है। इसके अलावा अन्य डेम के नजदीक भी रिसोर्ट बनाने का विचार किया जा रहा है।

मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम के ताजा आंकड़ों में पर्यटकों की संख्या का खुलासा हुआ है आंकड़ों के मुताबिक पिछले 2 साल से पर्यटकों की पहली पसंद इंदौर है। पहले चित्रकूट टॉप पर था। 2018 में 8 करोड़ 42 लाख देशी और 3 लाख 74,000 विदेशी पर्यटक मध्य प्रदेश आए थे 2017 के मुकाबले 2018 में 63 लाख पर्यटक बढ़े हैं।