Loading...

ऊर्जा मंत्री के कार्यक्रम में 4 ​बार बिजली कटौती हुई | INDORE MP NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश में बिजली की समस्या जानने इंदौर पहुंचे ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह के कार्यक्रम में ही चार बार बिजली गुल हो गई। रविवार को उन्होंने पहले बिजली अधिकारी व कर्मचारियों के एसोसिएशन कार्यक्रम में शिरकत की। इसके बाद वे बिजली इंजीनियर और कांट्रैक्टरों के कार्यक्रम में शामिल हुए। शहर के एक होटल में आयोजित इस एक घंटे के कार्यक्रम में चार बार बिजली गई। कैमरे की लाइट में ही मंत्रीजी को कांट्रेक्टर और इंजीनियर्स से बात करनी पड़ी। होटल में जनरेटर की सही व्यवस्था न होने से बिजली अधिकारी होटल प्रबंधन पर ही भड़कने लगे।

मीडिया पर भड़क गए ऊर्जा मंत्री

ऊर्जा मंत्री के कार्यक्रम में चार बार बत्ती गुल होने से उन पर ही सवाल खड़े हो रहे थे। कार्यक्रम के बाद मीडिया ने जब मंत्री जी से, उनके ही कार्यक्रम में बिजली गुल होने का सवाल पूछा तो मंत्री जी का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया। मीडिया पर भड़ास निकालते हुए मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि बिजली मंत्री डिस्ट्रीब्यूशन के तार नहीं हैं भइया। क्या बिजली मंत्री ने पेड़ उखाड़कर तारों पर गिराए हैं। बीजेपी की सरकार में भी बिजली जाती थी। उनके समय में भी पेड़ गिरते थे। उनके समय भी ट्रिपिंग होती थी।

2019 में ट्रिपिंग कम हुई-

मंत्री प्रियब्रत ने कहा कि बीजेपी बिजली को लेकर भ्रामक प्रचार कर रही है। पर असलियत यही है कि 2017 और 2018 के मुकाबले 2019 में ट्रिपिंग कम हुई है। आपको मैं रिकार्ड दिखा सकता हूं। उन्होंने कहा कि ‘अब आप ये मत कहने लगना कि प्रियव्रत सिंह आया था तो पेड़ उखाड़कर खंभो पर डालने लग गया था। स्थितियों में सुधार हो रहा है। धीरे-धीरे और बेहतर होंगी’।