Loading...

कमलनाथ जी, बिजली-पानी नहीं दे सकते तो इस्तीफा दे दो: राकेश सिंह | MP NEWS

भोपाल। भाजपा सरकार ने जनहित की जिन योजनाओं को लागू किया था, उन्हें आगे बढ़ाना तो दूर, कमलनाथ सरकार तो प्रदेश की सामान्य व्यवस्थाओं को भी नहीं संभाल पा रही है। लोग बिजली और पानी जैसी चीजों के लिए परेशान हो रहे हैं। अपनी नाकामी को छुपाने के लिए यह सरकार हर समस्या का ठीकरा भाजपा के सिर फोड़ने के जतन में लगी रहती है। मूलभूत जरूरत की चीजों के लिए प्रदेश के लोगों को परेशान करने वाली इस सरकार को एक दिन भी सत्ता में बने रहने का हक नहीं है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने मंगलवार को मीडिया चर्चा करते हुए कही।

प्रशासन पर नियंत्रण नहीं, सरकार कैसे चलाएंगे

प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश सिंह ने भाजपा प्रदेश कार्यालय में मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार ने सत्ता संभालने के बाद प्रदेश के किसानों, युवाओं और गरीबों से किए गए किसी भी वादे को पूरा नहीं किया। भाजपा सरकार द्वारा शुरू की गई जनहित की योजनाओं पर रोक लगा दी है। और तो और यह सरकार बिजली, पानी, सड़क जैसी व्यवस्थाओं में भी सुधार नहीं कर पा रही है। चाहे बिजली कटौती हो, या पानी की कमी हर समस्या के समाधान में नाकाम यह सरकार लोगों का ध्यान भटकाने के लिए भाजपा को जिम्मेदार बताती है। उन्होंने कहा कि जब इस सरकार का प्रशासन पर, अधिकारियों- कर्मचारियों पर नियंत्रण नहीं है, तो फिर ये लोग सरकार कैसे चलाएंगे ?

आर्थिक हितों के लिए शुरू किया तबादला उद्योग

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने झूठे वादे करके प्रदेश में अल्पमत की सरकार बना ली। इस सरकार ने समाज के हर वर्ग को धोखा दिया। कांग्रेस के नेताओं और मंत्रियों ने अपने आर्थिक हितों के लिए तबादला उद्योग शुरू कर दिया, जिसमें मुख्यमंत्री कमलनाथ भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने इस सरकार को नकार दिया है, फिर भी अंदरूनी खींचतान के चलते सरकार के भविष्य के प्रति आशंकित नेता और मंत्री तबादला उद्योग से ही अपनी जेबें भरने में लगे हैं।

ठीक से नहीं रखा हाईकोर्ट में पक्ष

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हर मोर्चे पर विफल रही कमलनाथ सरकार ने ग्वालियर हाईकोर्ट में चल रहे अवैध कॉलोनियों के मामले की सुनवाई के दौरान सरकार का पक्ष ठीक से नहीं रखा, जिसके चलते हाईकोर्ट ने अवैध कॉलोनियों को वैध करने पर रोक लगा दी है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने प्रदेश के लाखों लोगों का ध्यान रखते हुए यह फैसला किया था, लेकिन अब हाईकोर्ट के निर्णय के बाद इन लोगों के भविष्य पर सवालिया निशान खड़ा हो गया है।

अभी से हार का बहाना ढूंढ रही सरकार

प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश सिंह ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस अभी से स्थानीय निकाय चुनावों में होने वाली हार के लिए बहाना तलाश करने में लग गई है, इसलिए अब बैलेट पेपर से मतदान की मांग कर रही है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में ईवीएम के जरिए ही मतदान हुआ था, जिसमें कांग्रेस ने कई सीटें जीती हैं। उस समय कांग्रेस ने बैलेट पेपर से मतदान कराने की बात क्यों नहीं कही ?