Loading...

फर्जी वसीयत बनाकर दो महिलाओं ने इंजीनियर को ठगा | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। फर्जी वसीयत (Fake will) बनाकर दो महिलाओं अपनी बुआ के मकान को अपना बताकर एक इंजीनियर को बेच दिया। बदले में 19.25 लाख रुपए भी ले लिए। रजिस्ट्री कराने के बाद जब इंजीनियर नामांतरण कराने पहुंचा तो घटना का खुलासा हुआ। घटना 2010 से वर्ष 2019 के बीच ठाकुर बाबा रोड डबरा की है। पीड़ित ने मामले की शिकायत कोतवाली थाने में की थी। आवेदन पर जांच के बाद पुलिस ने इस मामले में सोमवार रात को मामला दर्ज कर लिया है।  

डबरा के ठाकुर बाबा रोड निवासी निवासी 74 वर्षीय मिथलेश कुमार द्विवेदी (Mithlesh Kumar Dwivedi) शुगर फैक्ट्री में इंजीनियर हुआ करते थे। वर्ष 2010 में उन्होंने एक मकान डबरा रोड पर दो बहनों सुखमित कौर व जसबिंदर कौर (Sukhmit Kaur and Jasbinder Kaur) से खरीदा था। बदले में 19.25 लाख रुपए भी दिए थे। इसके बाद उन्होंने रजिस्ट्री करा ली। पर जब नामांतरण कराने पहुंचे तो पता लगा कि यह मकान किसी पुष्पंत कौर (Pushpant Kaur) के नाम पर नामांतरण है। जिन्हें दोनों महिलाओं ने अपनी बुआ का बताते हुए फर्जी वसीयत नामा पर बेचा था। 

जब पुष्पंत कौर को पता लगा तो उन्होंने नामांतरण व रजिस्ट्री पर अपत्ति लगा दी। धोखाधड़ी का पता चलते ही इंजीनियर ने कोतवाली थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज करने शिकायत की। जिस पर पुलिस ने लम्बी जांच के बाद सोमवार रात को दोनों महिलाओं पर धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।