कील पर बंधा था फांसी फंदा, छात्रा का शव लटका मिला | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। बाथरूम में लगी कील पर सॉफी (पुरुषों द्वारा उपयोेग किए जाने वाला वस्त्र) से फांसी का फंदा बना हुआ था और उस पर छात्रा का शव लटका मिला। छात्रा के मामा ने उसके सौतेले पिता पर हत्या का आरोप लगाया है। मामा का आरोप है कि एक कील से दो फीट के बाथरूम में छात्रा फांसी कैसे लगा सकती है और उसके शरीर पर चोटे कैसे लगी। पुलिस ने उनके आरोपों की जांच शुरू कर दी है। 

कंपू थाना क्षेत्र के गुढ़ा गुढ़ी का नाका निवासी सोलह वर्षीय आशमा (Ashma Khan) पुत्री इदरीश खान (Idrish khan) बाथरूम में फांसी के फंदे पर लटकी मिली थी। हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पीएम हाउस पहुंचा दिया था। कोंच जालौन से आए मृतका के मामा इरफान (IRFAN) ने पिता तथा सौतेली माँ रूखसार पर हत्या का आरोप लगाते हुए बताया कि उनकी बहन सलमा की मौत के बाद इदरीश ने दूसरी शादी की थी और उसके बाद से ही आशमा को परेशान किया जा रहा है। 

जिस कील से फांसी लगाकर आत्महत्या करना बताया जा रहा है। वहां शव को लटकाकर मोबाइल से फोटो खींचा गया और फिर शव को उतार लिया गया क्योंकि कील, शव का वजन सहन नहीं कर सकती थी और फिर पुलिस को सूचना दी। जबकि उसके शरीर पर चोटों के निशान थे।