Loading...

ट्रैक्टर पार्ट्स की एजेंसी में लगी आग, वृद्ध दंपत्ति पड़ोसी की छत पर कूदे | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। ट्रैक्टर पार्ट्स (Tractor parts) की एजेंसी में भीषण आग (Agency fire) लग गई। आग लगने से घर में सो रहे वृद्ध पति पत्नी पड़ोसी की छत पर कूंद गए जिससे उनकी जान बच गई। आग लगने की खबर मिलते ही दमकल की एक के बाद एक 5 गाडिय़ां मौके पर पहुंची। और 8 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। घटना बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुरम की है।

लक्ष्मीपुरम स्थित मकान नंबर 44 में आग की लपटें उठने लगी और आग नीचे से बढक़र ऊपरी मंजिल पर पहुंच गई। मकान में सो रहे वृद्ध सुखदेव सिंह (Sukhdev Singh) और उनकी पत्नी वीरेंद्र देवी शिवहरेे (Virendra Devi Shivware) ने आग देखी तो शोर मचाते हुए पड़ोसी की छत पर जान बचाने के लिए कूद गए। आग लगने की खबर पुलिस नियंत्रण कक्ष को पड़ोसियों ने खबर दी। और इसके बाद दमकल की एक के बाद एक 5 गाडिय़ां मौके पर पहुंची।

आग पर आबू काबू पाने के लिए दमकल कर्मियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मकान गहरा होने और ट्रैक्टर पार्ट्स के साथ-साथ आयल और ग्रीस रखें होने से आग बढ़ती जा रही थी। दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाने के लिए फॉर्म का उपयोग भी किया। जिससे आग पर कुछ हद तक काबू पाया जा सका। मौके पर पहुंचे नोडल अधिकारी केशव सिंह चौहान फायर ऑफिसर उमंग प्रधान ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने के लिए मुरार व बाड़ा सब स्टेशन से भी गाडी बुला लीं। दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाने के लिए आसपास के मकानों का सहारा लेकर पानी फेंका और आग पर 8 घंटे की मशक्कत के बाद काबू पा लिया गया।

दमकल कर्मियों का कहना था कि मकान की गहराई ज्यादा होने के कारण आग नियंत्रण करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। और सबसे बड़ी बात यह कि इसके अंदर आयल और ग्रीस रखा हुआ था। जिससे आग भडक़ रही थी। आग शॉर्ट सर्किट से लगी है या और कोई वजह से इसे लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही है। एचडी मोटर्स के संचालक दीपक का कहना कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी है। और दो दिन पहले भी शॉर्ट सर्किट से आग लगने की घटना हुई थी। लेकिन दमकल कर्मियों ने सही ढंग से आग पर काबू नहीं पाया था। स्थानीय लोग आग लगने को लेकर कई तरह की बातें कर रहे थे।

लाखों का हुआ नुकसान

लक्ष्मीपुरम में ट्रैक्टर की एजेंसी संचालित करने वाले दीपक शिवहरे का कहना है कि वह एचडी मोटर और सूर्या ट्रेडिंग कंपनी के नाम से कारोबार करते हैं। आग लगने के कारण 60 से 70 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। इसके साथ ही 3 मंजिल का मकान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट होना बताया गया है।

बड़ा हादसा टला

आग लगने के कारण एक बड़ा हादसा घटित हो सकता था। क्योंकि जिस मकान में आग लगी है। उसमें दीपक शिवहरे का परिवार रहता है। जिस समय आग लगने की घटना हुई। मौके पर वह नहीं थे। दमकल विभाग (Fire department) के हेड फायरमैन देवेंद्र जगनिया व कोमल सिंह ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने के साथ-साथ एक बाइक 4 गैस सिलेंडरों को भी बाहर निकाला। अगर मकान में सिलेंडर फट जाता, या फिर बाइक में आग लग जाती तो एक बड़ी घटना घटित हो जाती।

मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर पहुंचे घटनास्थल पर

लक्ष्मीपुरम में आग लगने की खबर मिलने के बाद मध्य प्रदेश शासन के खाद्य मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर मौके पर पहुंचे। और दमकल विभाग के अधिकारियों से चर्चा की। दमकल विभाग के अधिकारियों ने बताया कि आग लगने की सूचना मिलते ही मौके पर सभी पहुंच गए थे। और फोम व पानी की मदद से आग पर काबू पाया गया। इस दौरान एसडीएम भी मौके पर पहुंचे। दीपक शिवहरे का कहना कि फायर बिग्रेड एक घंटा देरी से आई। जबकि वहां मौजूद स्थानीय लोगों ने बताया कि सूचना देने के साथ ही बोहड़ापुर सब स्टेशन से 2 गाडिय़ां मौके पर तत्काल आ गई थी