Loading...

निजी कारोबार कर रहे सरकारी कर्मचारियों को बर्खास्त करने के आदेश | EMPLOYEE NEWS

पणजी। गोवा सरकार में श्रम और रोजगार मंत्री रोहन खौंटे ने शुक्रवार को कहा कि कम से कम 30 फीसदी सरकारी कर्मचारी निजी कारोबार कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि प्रशासन को चाहिए कि ऐसे कर्मचारियों को पद से हटा दें, जिससे नई नौकरियों का सृजन हो सके। रोहन खौंटे ने जानकारी ना साझा करने के लिए निजी क्षेत्र को भी कोसा। 

उन्होंने कहा कि ऐसे सरकारी कर्मचारी अपनी आधिकारिक ड्यूटी में शिथिल हैं। रोहन खौंटे ने आगे कहा, ‘अगर किसी सरकारी कर्मचारी ने अपना अलग कारोबार शुरू किया है तो यह एक अच्छी बात है क्योंकि उन्होंने रोजगार का सृजन किया है। बहरहाल, उन्हें सरकारी पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।’ रोहन खौंटे ने आगे कहा, 'जब हम जानना चाहते हैं कि कहां कितनी बेरोजगारी है और उसका क्या स्तर है तो हम कामयाब नहीं होते हैं क्योंकि हमें यह जानकारी चाहिए होती है कि कंपनियों में कौन-कौन से पद हैं और कितने पदों पर रिक्तियां हैं। अगर हमें इसकी जानकारी हो तो हम उसी हिसाब से लोगों को कौशल दे सकेंगे।' 

रोहन खौंटे का कहना है कि वह इस तरह के कर्मचारियों की पहचान के लिए कार्यबल के गठन के बारे में मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को पत्र लिखेंगे। रोहन खौंटे ने यह भी कहा कि राज्य सरकार राज्य में रोजगार को लेकर डिजिटल डेटाबेस बनाना चाहती है लेकिन प्राइवेट सेक्टर के लोग जानकारी साझा नहीं करना चाहते, जिसके चलते यह काफी मुश्किल है।