Loading...

BURHANPUR की सूखी नदीं में अचानक बाढ़ आ गई, पुल बना रहे 7 मजदूर फंसे | SOOKHI NADI BADH

भोपाल। मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में एक सूखी नदी में अचानक बाढ़ आ गई। नदी के ऊपर एक पुल का निर्माण कार्य चल रहा था। मजदूर काम कर रहे थे। सभी 7 मजदूर बाढ़ में फंस गए। निर्माण में उपयोग की जाने वाली सामग्री बह गई, मशीनें भी बाढ़ में फंस गईं। 

मात्र 20 मिनट में बाढ़ रौद्र रूप ले चुकी थी

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि नदी के कैचमेंट एरिया में तेज बारिश हुई होगी। इसी के चलते नदी का जलस्तर बढ़ने लगा। शायद कुछ बरसाती नाले फूटकर नदी में ​आ मिले होंगे। नदी में अचानक पानी का बहाव आया और जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया। मात्र 20 मिनट में सूखी नदी में बाढ़ आ चुकी थी। 

ठेकेदार की लापरवाही

बुरहानपुर-बोरी-नेपानगर का रोड़ दिसम्बर 2018 तक बनना था। जो ठेकेदार की लापरवाही कारण अभी तक नही बना है। ठेकेदार की गलती की सजा जनता भुगत रही है। सुखी नदी पर पहले भी पाइप द्वारा पुल बना हुआ था तब कभी पुल टूटा नही, रास्ता चालू रहा। अभी जो अस्थायी पुल बना है उसमें ऊंचा फाउंडेशन बना कर पाइप रखे जिससे पाइप से पानी नही निकल कर साइट से भराव काट कर निकल रहा है। स्कूल, कॉलेज के स्टूडेंट, बुरहानपुर में मजदूरी करने वाले कामगार सभी हलाकान हो रहे है।

रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू

जानकारी के मुताबिक, बुरहानपुर के निंबोला के बसाड़ गांव के पास सूखी नदी पर पुलिया के निर्माण का कार्य किया जा रहा है। रविवार को भी मजदूर निर्माण कार्य में लगे थे, तभी जोरदार बारिश के चलते सूखी नदी में अचानक बाढ़ आ गई। नदी का पानी इतनी तेजी से बढ़ा की पुल निर्माण कार्य में लगे 7 मजदूर बाढ़ के बीच फंस गए। मामले की जानकरी जैसे ही प्रशासन को मिली वैसे ही बचाव दल को मौके पर रवाना कर दिया गया। वहीं, पुलिस भी स्थानीय लोगों की मदद से मजदूरों को सुरक्षित निकालने का कार्य प्रारंभ किया है। खबर लिखे जाने तक रेस्क्यू ऑपरेशन के द्वारा मजदूरों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है।