Loading...

BHOPAL NEWS: कमलनाथ सरकार के खिलाफ कोलार के लोग सड़कों पर उतरे

भोपाल। बढ़े हुए बिजली बिल, अघोषित बिजली कटौती, जर्जर सडकों, जल संकट से परेशान कोलार के नागरिकों का गुस्सा गुरुवार को सडको पर दिखायी दिया। समस्याओं से जूझ रहे नागरिकों विशेषकर बड़ी संख्या में माताओं बहनों ने कमलनाथ की कांग्रेस सरकार को जमकर कोसा। विधायक एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा के नेतृत्व में आयोजित कमलनाथ सरकार के खिलाफ आंदोलन में हज़ारो की संख्या में नागरिक एवं भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे। 

ओम नगर जहाँ बढ़े हुए बिजली बिल की सर्वाधिक शिकायत है वहाँ से माताओं बहनों के साथ विधायक शर्मा पद यात्रा करते हुए बीमा कुंज पहुँचे। बीमा कुंज पर पहले से ही मौजूद नागरिकों एवं कार्यकर्ताओ ने कांग्रेस सरकार पर जबरदस्त गुस्सा निकाला। गौरतलब है कि कोलार में बढ़े हुए बिजली बिल से नागरिकों का जीवन अस्तव्यस्त हो गया है। ज्ञात हो कि कोलार के विभिन्न क्षेत्रों में मुख्यमंत्री संबल योजना के अंतर्गत आने वाले गरीब परिवारों में विधुत विभाग द्वारा 2500 से 50 हज़ार प्रति महीने का बिल भेजा गया है । जिससे गरीब परिवारों का जीवन अस्तव्यस्त हो गया है। 

कांग्रेस सरकार के खिलाफ बीमा कुंज पर आयोजित आंदोलन को संबोधित करते हुए विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जी के नेतृत्व वाली प्रदेश की कांग्रेस ने प्रदेश को गर्त में डालने का काम किया है बिजली ,सड़क पानी, स्वास्थ्य, कानून व्यवस्था चौपट हो चुकी है । विधायक शर्मा ने कहा कि बढ़े हुए बिजली बिल से कमलनाथ सरकार हज़ारो करोड़ के घोटाले में जुटी हुई है कांग्रेस के कार्यकर्ता बिजली विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से समझौते के नाम से जनता को लूट रहे है . विधायक शर्मा ने कहा कि कमलनाथ सरकार बिजली की जगह बिलो से करंट दे रही है । बिजली की अघोषित कटौती ने व्यापार व्यवसाय रोजगार आम जीवन को त्रस्त कर दिया है । उन्होंने कहा कि बिजली की वजह से चौतरफा हाहाकार मचा हुआ है फिर भी कांग्रेस सरकार के बिजली मंत्री इसका दोष चमगादड़ को देते है यह और भी दुर्भाग्यपूर्ण है । बढ़े बिजली बिल की शिकायत पर वह गरीब जनता जो सुबह कमाकर शाम को खाती है उससे कहते है कि उसके घर 6-6 एसी लगे है इसलिए बिल ज्यादा आ रहा है यह गरीबो का अपमान है इस अपमान की कीमत कांग्रेस सरकार को चुकानी पड़ेगी । 

विधायक शर्मा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम से प्रशासन को सौपे गए ज्ञापन के माध्यम से कमलनाथ से मांग करते हुए कहा कि बढ़े हुए बिजली बिल की जांच के लिए सर्वदलीय विधायकों के नेतृत्व वाली प्रदेश स्तरीय जाँच कमेटी का गठन किया जाए एवं दोषी तथाकथित कांग्रेस कार्यकर्ताओ एवं अधिकारियों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जाए । विधायक शर्मा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से मांग करते हुए कहा कि कोलार की सीवेज योजना, केरवा पेय जल योजना , कोलार की जर्जर सडको एवं हुज़ूर विधानसभा में रुके हुए विकास कार्यो को तत्काल आरम्भ करने के निर्देश संबंधितो को देते हुए दलगत राजनीति से ऊपर उठकर प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी के सिद्धान्त सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास को आगे बढ़ाएं । विधायक शर्मा ने कहा कि विकास के लिए हम आपके साथ है विकास न रोके । 

इस अवसर पर विशेष 
बी एस वाजपेयी, एम आई सी सदस्य भूपेंद्र माली,पार्षद रविन्द्र यति, पार्षद पवन बोराना, गुड्डू भदौरिया , कुसुम शर्मा, गीता मिश्रा, मनोहर मीना ,सतीश वर्मा, सुनील अहिरवार, राहुल सिंह , सुरेंद्र शुक्ल, शोभा ठाकुर, शिव जड़िया,ममता राठौर, विश्वनाथ मीना, अशोक नाथ योगी, ओ पी नाथ, योगेश घाडगे, अमन यादव, सुभाष काटे, राहुल साल्वे, धनराज नायडू, सकून, निर्मला बाई, संगीता रेडडे , जानकी बाई, संजय गुर्जर सहित अन्य बड़ी संख्या में नागरिक बंधु उपस्थित रहे ।