Loading...

6 माह की बेटी को लेकर शादी करने आ गई, गर्भवती ने फेरे लिए | MUKHYAMANTRI VIVAH NIKAH GHOTALA

दतिया। नगर पालिका ने मंगलवार को मुख्यमंत्री कन्यादान और निकाह योजना के तहत सामूहिक विवाह सम्मेलन में 226 जाेड़ाें की शादी करवाई लेकिन इनमें ज्यादातर पहले से शादीशुदा हैं। एक महिला अपनी छह माह की बच्ची को लेकर शादी रचाने पहुंची तो कुछ गर्भवती महिलाओं से भी वरमाला डलवा दी गई। नगर पालिका के अफसर, वार्ड प्रभारी और पार्षदों की मिलीभगत से शादीशुदा जोड़ों को 48 हजार की सरकारी सहायता का लालच देकर दाेबारा शादी के बंधन में बंधवाया गया। 

विवाह सम्मेलन में पहुंचने वाली महिलाओं की मांग पहले से भरी थी। पैराें में बिछिया थे। नपा के अफसर और पार्षदों से पूछा तो वे कुछ भी बोलने से बचते नजर आए। हालांकि नपाध्यक्ष ने जरूर कहा कि इस मामले की जांच कराएंगे। सुभाष अग्रवाल, नपाध्यक्ष, नगर पालिका दतिया ने कहा कुछ शादीशुदा जोड़ोंं के शामिल होने की बात सामने आई थी तो हमने मंच से एनाउंस भी कराया कि यदि ऐसा कोई जोड़ा है तो वह सम्मेलन में हिस्सा न ले। जोड़ों के संबंध में वार्ड प्रभारियों ने पूरी जांच पड़ताल की थी। जांच कराएंगे और वार्ड प्रभारियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।' 

इन शादीशुदा दंपत्तियों ने फिर से शादी कर ली


वार्ड दो में रहने वाली माधवी साहू का विवाह फरवरी में दिनारा निवासी पंकज साहू के साथ हुआ था। मंगलवार को पंकज और माधवी ने फिर से शादी की औपचारिकता की।
उनाव रोड निवासी धनवंती का विवाह सात मई को ग्वालियर निवासी राहुल के साथ हुआ था। मंगलवार को दोनों ने पुन: वरमाला डाली।
वार्ड 31 के भांडेर रोड निवासी रीना का विवाह डबरा निवासी आनंद के साथ पांच जून को हुआ था। इन्होंने भी दोबारा शादी की।
गाड़ीखाना के पीछे रहने वाली मनीषा विश्वकर्मा का विवाह 10 फरवरी को अंकित विश्वकर्मा के साथ हो चुका है।
आनंद टॉकीज निवासी महिला छह माह के बच्चे को लेकर सम्मेलन में पहुंची।