Loading...

नीमच कांड: जेलर सहित 6 सस्पेंड किए, फरार कैदियों की लोकेशन मिली | INDORE NEWS

इंदौर। नीमच जेल ब्रेक कांड में गृहमंत्री बाला बच्चन (Home Minister Bala Bachchan) ने आरोपियों को गिरफ्तार (Arrested) कर लेने का दावा किया है। गृहमंत्री मंगलवार को रेसीडेंसी कोठी में योजना समिति की बैठक लेने इंदौर पहुंचे थे। उन्होंने साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार कर लेने के साथ ही नीमच जेल अधीक्षक, सहायक अधीक्षक समेत चार कांस्टेबल को सस्पेंड करने की जानकारी दी।
योजना समिति की बैठक में शामिल होने शहर आए गृहमंत्री ने कानून व्यवस्था पर खुद की सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि पिछली सरकार के कार्यकाल के 2017-18 के मुकाबले हम बेहतर स्थिति में हैं। भाजपा सरकार से बाहर होने के बाद छटपटा रही है। वह हमारी सरकार को साजिश के तहत बदनाम करने की कोशिश कर रही है। साढ़े 7 करोड़ जनता की सुरक्षा और हिफाजत की जिम्मेदारी सरकार की है। पुलिसकर्मियों को साप्ताहित अवकाश देने का एजेंडा हमारी सरकार में शामिल है। हम इस पर काम कर रहे हैं। जल्द ही इस पर निर्णय ले लिया जाएगा। यातायात को लेकर हम कसावट करेंगे। कम्प्यूटर बाबा को कमरा आवंटित करने के मामले को मुख्यमंत्री जी देख रहे हैं। वही निर्णय लेंगे कि क्या किया जाए। 

नीमच मामले में उन्होंने कहा कि यह पूरा कांड साजिश के तहत किया गया है। मामले में आज ही मैंने सभी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से बात की है। जेल के भीतर के जो साजिशकर्ता थे सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जेल अधीक्षक और सहायक जेल अधीक्षक सहित छह लोगों को हमने सस्पेंड किया है। रस्सी, आरी सहित भागने में अन्य सामान जब्त कर लिया गया है। आरोपियों की लोकेशन ट्रेस हो गई है आज उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

क्या है मामला 

रविवार को नीमच के कनावटी जेल से चार आरोपी फरार हो गए थे। इन्होंने कुछ समय पहले जमानत पर छूटे मास्टर माइंड विनोद दांगी के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। अलुसबह 3 से 4 बजे के बीच चारों आरोपियों ने रस्सी की मदद से 30 फीट ऊंची दीवार लांघी थी। जांच के दौरान फरार सभी कैदियों की लोकेशन राजस्थान में मिली है, जिसके बाद मप्र पुलिस राजस्थान पुलिस के संपर्क में है। गृहमंत्री के अनुसार सभी की लोकेशन राजस्थान के उदयपुर के आसपास मिली है। बता दें कि मामले में पुलिस ने अब तक 14 लोगों पर केस दर्ज किया है। जिसमें दो जेल पहरी भी शामिल हैं।