Loading...

गुस्साए कर्मचारी ने अंधाधुंध फायरिंग की, 12 लोगों की मौत | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। कर्मचारियों को प्रताड़ित किए जाने की घटनाएं केवल भारत या पिछड़े देशों में नहीं होतीं बल्कि अमेरिका जैसे विकसित देशों में भी कर्मचारी को प्रताड़ित किए जाने के मामले सामने आते हैं। ताजा घटना में कर्मचारी को इतना प्रताड़ित किया गया कि वो खुद पर नियंत्रण खो बैठा और उसने म्‍यूनिसिपल सेंटर की इमारत के भीतर अंधाधुंध गोलीबारी कर दी जिसमें 12 लोगों की मौत हो गई। 

अमेरिकी राज्य वर्जीनिया सरकार के सूत्रों के अनुसार, गोलीबारी करने वाला शख्‍स असंतुष्‍ट कर्मचारी बताया जा रहा है। इस घटना से लोगों में दहशत फैल गई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के मुताबिक, हमलावर जन सुविधा कर्मचारी था। वह किन्‍हीं कारणों से असंतुष्‍ट बताया जा रहा है, जिसके कारण उसने इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दिया। गोलीबारी की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने अंधाधुंध गोली चला रहे शख्‍स को मार गिराया। मेयर बॉबी डायर ने इसे वर्जीनिया बीच के इतिहास में सबसे 'त्रासदीपूर्ण' दिन बताया है।

इस घटना से लोगों में दहशत फैल गई है। प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक, उन्‍होंने लोगों को गोली लगने के बाद एक-एक कर गिरते देखा। हर तरफ खून ही खून नजर आ रहा था। गोलीबारी शुक्रवार को ऐसे वक्‍त में हुई जबकि अपने काम के सिलसिले में लोगों का म्‍यूनिसपल सेंटर आना-जाना जारी था। कुछ लोगों ने अपने डेस्‍क के नीचे छिपकर अपनी जान बचाई।