Loading...

सिहोरा SDOP कार्यालय में आरक्षक 10 हजार रिश्वत लेते ट्रेप | JABALPUR NEWS

सिहोरा। प्रदीप पांडे (Pradeep pandey) गोविंद प्रसाद पांडे (Govind Prasad Pandey) उम्र 56 वार्ड नंबर 12 खितौला बाजार (सिहोरा) निवासी ने शिकायत की थी कि फ़ाइल न करने और कार्यवाही आगे करने के एवज में सिहोरा पुलिस अनुविभागीय कार्यालय में पदस्थ आरक्षक (2136) अनूकूल मिश्रा (Anukul Mishra) के द्वारा कार्यवाही करने के लिए 10 हजार रुपये की मांग की गई। जिस पर लोकायुक्त ने आज दोपहर में कार्यवाही करते हुए आरोपी को SDOP कार्यालय में दस हजार की घूस (Bribe) लेते रंगे हांथो पकड़ा गया। 

डीएसपी लोकायुक्त दिलीप झरवड़े ने बताया कि खितौला बाजार निवासी प्रदीप पाण्डेय का उसके पिता गोविंद प्रसाद पाण्डेय से संपत्ति बंटवारे का विवाद चल रहा है। प्रदीप के साथ उसकी बहन तथा गोविंद के साथ दूसरा बेटा प्रवीण रहता है। पिता ने बेटे प्रदीप के खिलाफ धमकाने व मारपीट का आरोप लगाया था तथा प्रदीप का आरोप था कि उसके भाई प्रवीण ने बहन के पहचान संबंधी दस्तावेजों का दुरुपयोग करते हुए उसके नाम पर बैंक से लाखों का लोन ले लिया है। बहन के समस्त दस्तावेज भाई प्रवीण व पिता गोविंद प्रसाद अपने कब्जे में रखे हैं। बहन बार-बार दस्तावेजों की मांग करती है जिसे नहीं दिया जा रहा।

एसडीओपी ने दी थी कोर्ट जाने की सलाह

पिता-पुत्र की शिकायत पर एसडीओपी भावना मरावी ने दोनों पक्षों को कोर्ट जाने की सलाह दी थी। शिकायत शाखा प्रभारी को भी निर्देशित किया था कि दोनों पक्षों को कोर्ट भेजा जाए। इस बीच आरक्षक मिश्रा ने प्रदीप को धमकाया कि पिता की शिकायत पर उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज किया जा सकता है। जिससे बचने के लिए 25 हजार रुपए रिश्वत की मांग की।

कार्रवाई में ये रहे शामिल

एसपी अनिल विश्वकर्मा के निर्देश पर हुई कार्रवाई में डीएसपी दिलीप झरवड़े, निरीक्षक मंजू किरण तिर्की, एसआई नरेश बेहरा, आरक्षक जुबेद खान, अतुल श्रीवास्तव, अमित गावडे, राकेश विश्वकर्मा शामिल रहे।