Loading...

PRAGYA SINGH, शिवराज सिंह समेत कई नेताओं पर भड़कीं, केलकर ने संभाली कमान | BHOPAL LOKSABHA CHUNAV NEWS

भोपाल। बीजेपी केंप के अंदर से खबर आ रही है कि भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बेहद नाराज थीं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत भोपाल के कई नेताओं के प्रति अपना गुस्सा जाहिर किया। प्रज्ञा सिंह का आरोप था कि भाजपा के प्रतिष्ठित नेता उनका प्रचार नहीं कर रहे हैं। यह मुद्दा चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में उठा जो हर रात आयोजित हो रही है। 

आरएसएस के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न, केलकर को कमान

संघ को यह फीडबैक मिला है कि साध्वी प्रज्ञा सिंह को प्रत्याशी बनाने से भोपाल और राज्य के कई बड़े भाजपा नेता खुश नहीं हैं। पिछले दस दिनों में वे ज्यादा सक्रिय भी नहीं रहे इसलिए चार दिन पहले संघ मैदान में कूद पड़ा है। भोपाल में चुनाव अभियान की कमान पूरी तरह संघ ने अपने हाथ में ली है। संघ के पूर्व प्रचारक और भारत रक्षा मंच के राष्ट्रीय संयोजक सूर्यकांत केलकर को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। 

भाजपा के जमीनी कार्यकर्ताओं पर भी संघ का पहरा

भोपाल में भाजपा के जमीनी कार्यकर्ताओं पर भी संघ का पहरा बैठा दिया गया है। संघ के सह सरकार्यवाह कृष्णगोपाल ने बैठक में ऐलान किया कि भाजपा नेताओं के साथ-साथ बूथ स्तर पर संघ और उसके अनुषांगिक संगठनों के कार्यकर्ता भी तैनात रहेंगे। संदेश स्पष्ट है। जो कार्यकर्ता 1994 से 2014 तक भाजपा को चुनाव जितवाते आए अब उन पर भरोसा नहीं रहा। इसलिए पहरा बिठाया जा रहा है ताकि भाजपा नेताओं को घर से निकाला जा सके। पिछले दो दिन से प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और संघ के मध्य क्षेत्र के सह क्षेत्र कार्यवाह हेमंत मुक्तिबोध विधानसभावार बैठकें लेकर चुनावी तैयारियों में जुटे हैं।

शिवराज सिंह पर भड़क गईं थीं प्रज्ञा​ सिंह

रोज रात को भोपाल लोकसभा सीट की चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक होती है। सूत्रों के मुताबिक पिछले दिनों एक बैठक में साध्वी प्रज्ञा भाजपा नेताओं की निष्क्रियता पर भड़क गई थीं। बताया जा रहा है कि अगले दिन पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बैठक में शामिल होना पड़ा। और आज शिवराज सिंह व विश्वास सारंग ने नरेला में रोड शो आयोजित किया। 

नेताओं ने साध्वी परिक्रमा शुरू कर दी

अब भोपाल के बड़े नेताओं ने प्रतिदिन साध्वी परिक्रमा शुरू कर दी है। दिन भर में कम से कम एक बार और सामान्यत: 2 या 3 बार वो किसी ना किसी आयोजन में साध्वी के आसपास नजर आते हैं। फोटो अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करके संबंधितों को टैग कर देते हैं ताकि प्रमाणित हो जाए कि वो स​क्रिय हैं। महापौर आलोक शर्मा भी शुरुआती दिनों में अनुपस्थित थे परंतु अब उपस्थिति हैं ठीक उसी प्रकार जैसे वो फातिमा रसूल के चुनाव में उपस्थित थे। 

हम तो प्रत्याशी के बिना भी प्रचार कर रहे हैं

विकास विरानी, भाजपा जिलाध्यक्ष, भोपाल का कहना है कि पार्टी के सभी कार्यकर्ता और नेता अपने-अपने काम में लगे हुए हैं। प्रत्याशी के बिना भी प्रचार चल रहा है। पार्टी नेताओं की नाराजगी की खबरें सही नहीं है।