FANI TOOFAN: एक तिहाई मप्र पर तूफानी बादल, 2 जिलों में चक्रवात की बारिश | MP NEWS

Advertisement

FANI TOOFAN: एक तिहाई मप्र पर तूफानी बादल, 2 जिलों में चक्रवात की बारिश | MP NEWS

भोपाल। चक्रवाती तूफान का असर मध्यप्रदेश में भी नजर आने लगा है। ओडिशा में 200 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड से आंधी और बारिश चल रही है तो मध्यप्रदेश के 2 जिलों में भी बारिश शुरू हो गई है। सतना एवं गुना में बारिश शुरू हो गई है जबकि आधे से ज्यादा मध्यप्रदेश पर बादल छा गए हैं। तापमान में गिरावट नहीं आई लेकिन हवा में नमी आ गई है। 

शुक्रवार को सतना में 25 मिमी. बरसात हुई। इसके अलावा गुना में भी 2 मिम. पानी गिरा। आसमान पर बादल छाने के कारण प्रदेश में कई स्थानों पर दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की गई। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक शनिवार से तापमान में फिर बढ़ोतरी होने की संभावना है। फिलहाल पूर्वी मध्यप्रदेश चक्रवाती तूफान के कारण उठे बादलों से घिर चुका है। 

मौसम विज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि फेनी तूफान के असर से वातावरण में नमी बढ़ने के साथ ही शुक्रवार को पूर्वी मप्र में तेज हवाएं चलने के साथ ही गरज-चमक की स्थिति बनी। इस दौरान सतना और गुना में बरसात भी हुई। साथ ही बादलों के कारण प्रदेश में कई स्थानों पर दिन के अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। प्रदेश में सबसे अधिक तापमान 44 डिग्री से. दमोह में रिकार्ड किया गया।

सिंगरौली में चक्रवात की आंधी

सिंगरौली में चक्रवात की वजह से आई भीषण आंधी से पूरा शहर धूल धूसरित नजर आया। धूल का ऐसा गुबार उठा कि घरों में लोगों का रहना मुश्किल हो गया वहीं आलमारी और फ्रीज तक एनटीपीसी के एस डैम एरिया की राख जा पहुंची। उल्लेखनीय है कि एनटीपीसी विंध्याचल एवं एनटीपीसी शक्तिनगर का राख बांध विंध्यनगर व बैढ़न शहर के आसपास बलियरी एवं शाहपुर में सैकड़ों एकड़ जमीन पर बनाया गया है।