Loading...

भारतीय नौसेना चौथी स्‍कॉर्पिन पनडुब्‍बी वेला लांच | NATIONAL NEWS

भारत Bharat: भारतीय नौसेना के लिए मझगांव डॉक शिपबिल्‍डर्स लिमिटेड (एमडीएल) द्वारा तैयार की जा रही स्‍कॉर्पिन वर्ग की चौथी पनडुब्‍बी वेला को आज 6 मई, 2019 को रक्षा उत्‍पाद सचिव डॉक्‍टर अजय कुमार की पत्‍नी श्रीमती वीणा अजय कुमार ने लांच किया। रक्षा उत्‍पाद सचिव डॉक्‍टर अजय कुमार इस मौके पर मुख्‍य अतिथि थे। इस इस मौके पर वाइस एडमिरल ए के सक्‍सेना, सीडब्‍ल्‍यूपीएंडए भी मौजूद थे। इस कार्यक्रम से जाहिर है कि मझगांव डॉक शिपबिल्‍डर्स लिमिटेड द्वारा इस पनडुब्‍बी का निर्माण मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत किया जा रहा है जिसे रक्षा उत्‍पाद विभाग सक्रियता से लागू कर रहा है।

वेला पनडुब्‍बी को नौका-सेतू से उसे अलग करने के लिए मुम्‍बई पोर्ट ट्रस्‍ट लाया गया। पनडुब्‍बी का बंदरगाह और समुद्र में कठिन परीक्षण और जांच की जायेगी, उसके बाद ही इस भारतीय नौसेना को सौंपा जायेगा। स्‍कॉर्पिन वर्ग की छह पनडुब्बियों के निर्माण और तकनीक हस्‍तांतरण के लिए फ्रांस की कंपनी नेवल ग्रुप को सहयोगी कंपनी के रूप में ठेका दिया गया है और इसका निर्माण मझगांव डॉक शिपबिल्‍डर्स लिमिटेड कर रही है।      

एमडीएल के अध्‍यक्ष और प्रबंध निदेशक कमोडोर राकेश आनंद ने इस मौके पर बताया कि 20 अप्रैल, 2019 को पी 15 बी डेस्‍ट्रायर ‘इम्‍फाल’ और 6 मई, 2019 को वेला का उद्घाटन इस साल अब तक की एमडीएल की प्रमुख उपलब्धि है। अभी एमडीएल में 8 युद्ध पोत और 5 पनडुब्बियों का निर्माण कार्य चल रहा है। एमडीएल भारत की प्रमुख जहाज निर्माण कंपनी है जो भारतीय नौसेना की जरूरतों को पूरा करती है।  

स्‍कॉर्पिन वर्ग की पनडुब्बियां किसी आधुनिक पनडुब्बी के सभी कार्य करने में सक्षम है, जिसमें एंटी-सर्फेस और एंटी-सबमरीन युद्ध शामिल है। स्‍कॉर्पिन परियोजना तथा तकनीकी हस्‍तांतरण के अनुभव और उन्‍नत इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर के साथ एमडीएल भविष्‍य में और पनडुब्‍बी निर्माण का कार्य करने को तैयार है।