आजाद भारत का पहला आतंकवादी नाथूराम गोडसे हिंदू था: कमल हासन | NATIONAL NEWS

Advertisement

आजाद भारत का पहला आतंकवादी नाथूराम गोडसे हिंदू था: कमल हासन | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने भोपाल लोकसभा सीट से मालेगांव बम ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को प्रत्याशी बनाकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया। अब सारे देश में इस बात पर बहस चल रही है कि 'हिंदू हिंसक और लोगों में दहशत पैदा करने के लिए हत्याएं करने वाला आतंकवादी' होता है या नहीं। भाजपा का दावा है कि हिंदू आतंकवादी नहीं होता जबकि विपक्षी लगातार नए तर्क सामने रख रहे हैं। 

दक्षिण भारत में अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन ने तमिलनाडु के अरावकुरिचि में चुनाव अभियान के दौरान कहा, आजाद भारत का पहला आतंकी एक हिंदू था। उसका नाम नाथूराम गोडसे था। यहीं से आतंक की शुरुआत हुई थी। हासन ने कहा, “मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा, क्योंकि यह मुस्लिम बहुल इलाका है, बल्कि इसलिए क्योंकि मेरे सामने गांधी की प्रतिमा है।” उन्होंने कहा कि वह उसी हत्या का जवाब ढूंढने आए हैं। हासन ने कहा, “मैं एक ऐसा भारत चाहता हूं जहां सभी को बराबरी मिले। मैं एक अच्छा भारतीय हूं और मैं तो यही चाहता हूं।” हासन इससे पहले नवंबर 2017 में भी हिंदू कट्टरवाद पर बयान देकर विवादों में आ चुके हैं।

भाजपा ने कहा: आग से खेल रहे हैं हासन
हासन के बयान पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष तमिलसई सौंदरराजन ने ट्वीट कर कहा कि गांधी की हत्या और हिंदू आतंकवाद का मामला अभी उठाना निंदनीय है। तमिलनाडु के उपचुनाव से पहले अल्पसंख्यकों के वोट जुटाने के लिए यह बात उठाकर हासन आग से खेल रहे हैं। उन्होंने श्रीलंका के बम ब्लास्ट पर कोई विचार नहीं दिया।