एक भी भ्रष्ट और बेईमान नहीं बचेगाः शिवराज सिंह चौहान | MP NEWS

Advertisement

एक भी भ्रष्ट और बेईमान नहीं बचेगाः शिवराज सिंह चौहान | MP NEWS

सागर, दमोह। कांग्रेस तो भ्रष्ट और बेईमानों की पार्टी है। उनके नेता दिल्ली से लेकर मध्यप्रदेश तक भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और बेईमान है। उन्होंने प्रदेश की जनता के साथ बेईमानी की है, धोखा दिया है। जब केंद्र में कांग्रेस सरकार थी तो इनकी सरकार में घोटाले ही घोटाले हुए और अब मध्यप्रदेश में भी शुरू हो गए हैं। लेकिन अब इस देश और प्रदेश में एक भी बेईमान और भ्रष्टाचार नहीं बचेगा, क्योंकि भ्रष्टाचारियों को सबक सिखाने के लिए हमारे नेता नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे। ये बातें पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कही। वे बुधवार को पार्टी प्रत्याशी प्रहलाद पटेल के समर्थन में सागर जिले के केसली, बंडा और दमोह जिले के संग्रामपुर में आयोजित जनसभाओं को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके नेता सत्ता के मद में चूर है। वे हमारे कार्यकर्ताओं को धमका रहे हैं। मैं ऐसी भाषा बोलने का आदि नहीं हूं, लेकिन अन्याय सहन करना अन्याय करने से बड़ा पाप है और यदि कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ उंगली उठाई, झूठे मुकदमे बनाए, धमकाने की कोशिश की तो हम सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। उन्होंने कहा कि हमने भी प्रदेश में सरकार चलाई है, लेकिन कभी भी इस तरह की भाषा नहीं बोली है, कभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को धमकाया नहीं है। हमने तो प्यार से जनता का दिल जीतने की कोशिश की है, लेकिन कांग्रेस के नेता खुलेआम भाजपा कार्यकर्ताओं को धमका रहे हैं।

नहीं चला पा रहे सरकार तो हट जाओ
पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि सरकार नहीं चला पा रहे हैं तो सत्ता से हट जाओ, हमने सरकार चलाई है और आगे भी चला लेंगे। उन्होंने कहा कि बिजली चली जाती है तो इनके नेता भोपाल में कहते हैं कि ये भाजपा की चाल है। भाजपा के इशारे पर बिजली काटी जा रही है, लेकिन मध्यप्रदेश में कांग्रेस के मुख्यमंत्री हैं, कांग्रेस के मंत्री हैं और हम पर वे आरोप मढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों से कर्जमाफी का वादा कर लिया और अब कर्जमाफी नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों के उपर 48 हजार करोड़ का कर्जा है, बजट में पांच हजार करोड़ रूपए पास किया और बैंकों को 1300 करोड़ रूपए दिए। ऐसे में कैसे किसानों का कर्जामाफ होगा।