खाना बनाने के पैसे नहीं मिलने पर हलवाई ने लगाई गाड़ियों में आग | INDORE NEWS

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर के बाणगंगा पुलिस ने एक ऐसे हलवाई (Confectioner) हो पकड़ा है जिसने रसोई के पैसे नहीं देने पर गाड़ियों में आग लगा दी और फरार हो गया, लेकिन एक बार फिर इस पूरे घटनाक्रम पर पुलिस की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह खड़े हो रहे हैं. क्योंकि आरोपी के लेनदेन की शिकायत लेकर एरोड्रम थाने गया था, लेकिन एरोड्रम पुलिस (Erodrome police) ने शिकायत पर कार्रवाई नहीं कि जिसके कारण हलवाई को इस तरह की वारदात को अंजाम देना पड़ा. फिलाहल बाणगंगा पुलिस ने आरोपी को गरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है. घटना 16 मई की बताई जा रही है. 

बताया जा रहा है कि इंदौर के गोविंद नगर (Govind nagar) में रहने वाले  आयुष जैन (AAYUSH JAIN) के यहां लड़की की शादी थी. जिसकी रसोई दिलीप सैनी (DILIP SAINI) नामक हलवाई ने बनाई थी. हलवाई से रसोई बनवाने के बाद लड़की पक्ष के लोगों ने रसोई के दस हजार आज-कल में देने का वादा किया था, लेकिन नहीं दिए. जिसके बाद हलवाई अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंचा, लेकिन पुलिस ने भी हलवाई की नहीं सुनी. जिसके बाद गुस्से में दिलीप सैनी (हलवाई) को गुस्सा आ गया और उसने  आयुष जैन की तीन गाड़ियों में आग लगा दी और फरार हो गया. 

पुलिस ने इस पूरे मामले में आसपास लगे CCTV फुटेज के आधार पर जांच की और आरोपी दिलीप सैनी को गिफ्तार कर क्षेत्र में उसका जुलूस भी निकाला. वहीं बताया जा रहा है कि हलवाई दिलीप ने पैसों के लेन-देन की शिकायत एरोड्रम थाना प्रभारी अशोक पाटीदार (ASHOK PATIDAR) को भी की थी, लेकिन थाना प्रभारी के कार्रवाई नहीं करने के कारण दिलीप ने इस तरह की वारदात को अंजाम दिया. फिलाहल घटना के बाद से आरोपी फरार था वहीं पकड़ में आने के बाद आरोपी ने रसोई के पैसों को लेकर इस तरह की वारदात को अंजाम देने की बात कबूली है.