Loading...

मध्यप्रदेश के सभी कोचिंग संस्थानों की जांच होगी | MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश के सभी कोचिंग संस्थानों की जांच की जाएगी। यह जांच आने वाले 15 दिनों में पूरी हो जाएगी। कलेक्टर की ओर से भेजी गई एक विशेष टीम कोचिंग संस्थानों की जांच करेगी एवं अपनी रिपोर्ट कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत करेगी। कलेक्टर सभी कोचिंग संस्थानों की रिपोर्ट को व्यवस्थित करके मुख्यमंत्री सचिवालय की ओर भेजेंगे। 

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने प्रदेश के सभी कोचिंग संस्थानों में सुरक्षा संबंधी व्यवस्थाओं को पुख्ता बनाने एवं इस संबंध में सभी ज़रूरी क़दम उठाने के निर्देश मुख्य सचिव को दिए हैं। श्री नाथ ने सूरत में एक कोचिंग संस्थान में हुई आगजनी की दु:खद घटना और उसमें हुई जनहानि के संदर्भ में यह निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दिशा में उठाये गये सभी क़दमों और व्यवस्थाओं की रिपोर्ट 15 दिन में प्रस्तुत करें।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने मुख्य सचिव से कहा है कि सभी जिला कलेक्टरों को निर्देशित करें कि वे अपने जिले में चल रहे सभी कोचिंग संस्थानों को सूचीबद्ध कर वहाँ की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी कोचिंग संचालकों की बैठक कर सुरक्षा के आवश्यक मापदंड बनाये जायें। साथ ही इन संस्थानों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या और उसके आधार पर उनकी सुरक्षा व्यवस्था पर भी चर्चा करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सूरत की घटना एक सबक है। इसके मद्देनजर प्रदेश में इस तरह भी घटनाएँ न हों, इसके लिये सतर्कता बरतते हुए सभी आवश्यक इंतजाम सुनिश्चित किए जाने चाहिए।