Loading...

दुल्हन ने फेरे से पहले दूल्हे में थप्पड़ जड़ा और थाने पहुंच गई, पढ़िए ऐसा क्या हुआ जो...| BHOPAL NEWS

भोपाल। ग्राम जरूआ में एक शादी के दौरान खासा बवाल हो गया। फेरे से पहले वधु पक्ष ने दूल्हे को टीके में 10 हजार रुपए दिए, तो दूल्हा सहित वर पक्ष 50 हजार रुपए की मांग पर अड़ गया। जिस पर मारपीट के दौरान दुल्हन ने दूल्हे को थप्पड़ मारकर शादी तोड़ दी। फिर दहेज एक्ट में दूल्हा, उसके पिता और दो रिश्तेदारों को हवालात पहुंचा दिया।

पुलिस के मुताबिक ग्राम जरुआ निवासी रूपसिंह चढ़ार (Roop Singh Chadar) की पुत्री सीताबाई (SEETABAI) की शादी ग्राम बढ़गवां निवासी भगवानदास चढ़ार (Bhagwandas Chadar,के पुत्र रामकुमार से तय हुई थी। सोमवार को उसकी बारात आई थी। रात करीब 3 बजे पाणिग्रहण संस्कार के दौरान सीता के पिता रूपसिंह ने दूल्हा राम (RAM) को टीके की रस्म में 10 हजार रुपए दिए, तो दूल्हा सहित उसके परिजन 50 हजार रुपए की मांग करने लगे।

रूपसिंह ने कहा कि उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। वे पहले ही फलदान में बाइक और 10 हजार रुपए दे चुके हैं। अब अलग से 50 हजार कहां से दें, लेकिन दूल्हा और उसके परिजन नहीं माने। जिस पर उनकी बहस मारपीट में बदल गई। वधु पक्ष का आरोप है कि शराब के नशे में बारातियों ने हमला किया। जिसमें दुल्हन सीताबाई, पिता रूपसिंह, मौसी सहित अन्य लोगों को चोटें आईं।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दुल्हन सीताबाई ने दूल्हे राम को फटकार लगाते हुए थप्पड़ जड़ दिया और शादी करने से मना कर दिया। पूरी बारात लौट गई। मंगलवार की सुबह सीताबाई अपने पिता रूपसिंह के साथ बेमगगंज थाने पहुंची। वहां रिपोर्ट लिखाई।

बेगमगंज थाना प्रभारी वीरेंद्र सिंह के मुताबिक सीताबाई की रिपोर्ट पर आरोपितों के खिलाफ दहेज एक्ट 3/4, भादंवि की धारा 323, 294, 506, 34 के तहत केस दर्ज किया है। बड़गांव जाकर आरोपित रामकुमार चढ़ार, उसके पिता भगवानदास चढ़ार, दो रिश्तेदार रामबाबू चढ़ार और गोपीसिंह चढ़ार ग्राम हुरा थाना राहतगढ़ को गिरफ्तार कर लिया।