बेटी घर से भागी तो BF के पिता को BHOPAL से अपहृत कर VIDISHA में जिंदा जला दिया | MP NEWS

भोपाल। बैरसिया से दिनदहाड़े अपहरण किए गए किसान पर्वत विश्वकर्मा की हत्या कर दी गई है। आरोपियों ने उसे जिंदा जला दिया ओर हत्या करने के बाद उसके घर पर इसकी सूचना भी दी। अपहरणकर्ताओं का कहना था कि उनकी शादीशुदा बेटी किसान के बेटे के साथ भाग गई है। किसान का शव विदिशा से सटे करैयाखेड़ा गांव में मिला। 

बैरसिया से दिन दहाड़े किसान का अपहरण किया गया था

पुलिस के मुताबिक, मृतक की शिनाख्त बैरसिया थाने के ग्राम बवचिया निवासी पर्वत विश्वकर्मा (40) के रूप में हुई। पर्वत का बेटा कपिल विदिशा में टैक्सी चलाता था। पीड़ित परिवार ने शुक्रवार को बैरसिया थाने में पर्वत विश्वकर्मा के अपहरण का मामला दर्ज कराया था। बताया जा रहा है कि घटना वाले दिन बैरसिया इलाके में दिन दहाड़े कार से आए दो बदमाश एक किसान का अपहरण करके ले गए थे। उन्हें संदेह था कि किसान का बेटा उनकी बेटी को भगाकर ले गया है। आरोपियों का कहना है कि लड़की मिलने के बाद ही किसान की रिहाई की जाएगी। लड़की नहीं मिली तो किसान की हत्या कर दी जाएगी।

किसान का बेटा अपहरणकर्ताओं की बेटी से प्यार करता था

बाबचिया गांव निवासी 40 वर्षीय पप्पू उर्फ पर्वत सिंह खेती किसानी करते हैं। उनके बड़े बेटे कपिल की विदिशा निवासी महेंद्र यादव की पुत्री से प्रेम प्रसंग चल रहा था। महेंद्र की बेटी तीन दिन पहले विदिशा स्थित निवास से लापता हो गई थी। महेंद्र को संदेह था कि पप्पू का बेटा उसे भगाकर ले गया है। शुक्रवार सुबह महेंद्र अपने ड्राइवर गोविंद के साथ में बाबचिया बस स्टैंड पर आया। यहां उसने पर्वत को मिलने बुलाया। पर्वत पहुंचा तो उसे जबरिया कार में बैठाकर ले गए थे।