Loading...

ADHYAPAK NEWS | मप्र के ढाई लाख अध्यापकों का वेतन अटका

भोपाल। मध्यप्रदेश के करीब 2 लाख 34 हजार अध्यापकों के कैडर में बदलाव कर उन्हें नए कैडर में नियुक्त किया जा रहा है। इसकी कार्रवाई अभी तक पूरी नहीं हो पाई है। ऐसे में पूरे प्रदेश के लगभग ढ़ाई लाख अध्यापकों का वेतन संकट में है। असल में अभी इनका वेतन संकुल के जरिए जारी किया जा रहा है। नई व्यवस्था होने के बाद से ट्रेजरी के माध्यम से वेतन जारी किया जा सकेगा।

मध्यप्रदेश के शिक्षा विभाग में पदस्थ अध्यापकों को नए शैक्षणिक सत्र से नए कैडर में पदस्थ किए जाने के बाद नई व्यवस्था के अनुरूप ही वेतन जारी किया जाएगा। इसके वेतन की नई व्यवस्था फिलहाल संकट में है। ऐसे में उन्हें वेतन मिलने में परेशानी हो सकती है। स्कूल शिक्षा विभाग ने अध्यापकों का केडर चेंज कर उन्हें राज्य स्कूल शिक्षा सेवा में नियुक्त किया है।

अध्यापकों की वेतन व्यवस्था बदलकर अब ट्रेजरी के माध्यम से की जा रही है। अब तक करीब अब तक 1 लाख अध्यापकों का डाटा ही अपडेट हो सका है। करीब 1.30 लाख अध्यापकों का डाटा अपडेट होना बाकी रह गया है। इसके बाद एम्प्लाॅइज कोड के आधार पर अध्यापकों को सातवें वेतनमान का लाभ भी दिया जाएगा।