Loading...

चाय बांटने वाला अभिजीत: 10वीं में 87 प्रतिशत | REAL INSPIRATIONAL STORY

भोपाल। मध्यप्रदेश के विदिशा जिले में तहसील कार्यालय के पीछे स्थित चाय की दुकान पर नौकरी करने वाले अभिजीत टाले ने 10वीं में 87 प्रतिशत अंक हासिल किए है। अब अभिजीत टाले सारे शहर का हीरो बन गया है। लोग उसे चाय पर अपने घर बुला रहे हैं। 

रिटायर्ड शिक्षक ने 12000 रुपए इनाम दिया

कांग्रेस नेता आशीष सिंह भदौरिया ने शुक्रवार को प्रतिभाशाली बालक अभिजीत टाले को अपने घर बुलाया। यहां उनके पिता पिता रामप्रवेश सिंह भदौरिया और माता प्रभा सिंह ने 12000 रुपए का चेक सौंपा। रामप्रवेश सिंह सेवानिवृत्त शिक्षक हैं। उन्होंने टीलाखेड़ी के उस स्कूल में पढ़ाया है जहां अभिजीत पढ़ाई कर रहा है। इससे पहले छात्र को गुरुवार को पटवारी संघ ने पहल करते हुए तहसील परिसर में मिष्ठान्न खिलाकर अभिजीत टाले का फूल-मालाओं से सम्मान भी किया था। 

मां मजदूरी करती है

गौरतलब है कि टीलाखेड़ी निवासी और तहसील परिसर के पीछे चाय की दुकान पर काम करने वाले माधवगंज क्रमांक 2 स्कूल के छात्र अभिजीत टाले ने 10वीं में 87 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। छात्र जब डेढ़ साल का था तब उसके पिता वसंतराव टाले का निधन हो गया था। मां कौशल्याबाई मजदूरी करती है।