मुख्यमंत्री वोट डाल रहे थे, बिजली कट गई, कैमरों की लाइट में वोट डाला | MP NEWS

Advertisement

मुख्यमंत्री वोट डाल रहे थे, बिजली कट गई, कैमरों की लाइट में वोट डाला | MP NEWS

छिंदवाड़ा। मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरने वाला प्रसंग हुआ है। मुख्यमंत्री कमलनाथ जब पोलिंग बूथ पर वोट डाल रहे थे कि तभी बिजली गायब हो गई। हालात यह बने कि सीएम कमलनाथ को मीडिया के कैमरों की रोशनी में वोट डालना पड़ा। बता दें कि कमलनाथ यहां पूरे परिवार के साथ आए थे। मजेदार बात यह है कि कमलनाथ जैसे ही बूथ से बाहर निकले, ​बिजली आ गई। 

यह भाजपा के लोगों की साजिश है: कमलनाथ

मतदान के बाद मीडिया से बात करते हुए कमलनाथ ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता इस बार सच्चाई का साथ देगी। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बिजली गुल करने का काम बीजेपी के लोगों ने किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग कहीं बिजली गुल करके और कहीं लाइन खराब करके कांग्रेस को बदनाम करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा के बाद अब प्रदेश के दूसरे हिस्सों में भी चुनाव प्रचार करना मेरी जिम्मेदारी है। बता दें कि छिंदवाड़ा से कमलनाथ के पुत्र नकुल नाथ चुनावी मैदान में हैं।

पब्लिक में मैसेज 'कांग्रेस आई, बिजली गई'

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में इन दिनों बिजली व्यवस्था काफी बदहाल हो गई है। लोगों का कहना है कि ऐसा लग रहा है कि 15 साल पहले का कांग्रेस शासन वापस आ गया है। बता दें कि दिग्विजय सिंह के शासनकाल में राज्य में मूलभूत सुविधाओं का काफी अभाव था। उस समय बिजली-पानी-सड़क के मुद्दों पर ही कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा था।