Loading...

HOTEL GULMOHAR: बाथरूम में ARMY की महिला अधिकारी का चोरी छिपे VIDEO बना रहा था | INDORE NEWS

इंदौर। होटल गुलमोहर ( HOTEL GULMOHAR INDORE सरवटे बस स्टैंड के पास) छोटी ग्वालटोली थाना क्षेत्र में चोरी छुपे महिला अतिथियों के वीडियो बनाने का मामला सामने आया है। सेना के एक अधिकारी की पत्नी ने इसका खुलासा किया। पुलिस ने टीआई मॉल स्थित अनलिमिटेड शॉप के असिस्टेंट मैनेजर आशीष शर्मा पिता झारखंडे शर्मा निवासी अमरीपुर जिला बनारस (यूपी) को इस मामले में आरोपित किया है। वो लम्बे समय से इसी होटल में ठहरा हुआ था। 

क्या है घटनाक्रम

भारतीय सेना की महिला अधिकारी उत्तरप्रदेश की रहने वाली है। वो शादी की शॉपिंग करने के लिए इंदौर आई थी एवं HOTEL GULMOHAR में रुकी थी। महिला अधिकारी का रविवार रात उसके पास के कमरे में ठहरा निजी कंपनी का असिस्टेंट मैनेजर अश्लील वीडियो बना रहा था। उसने अपने बाथरूम में खड़े होकर सेल्फी स्टिक में मोबाइल लगाया। फिर रोशनदान में जाली नहीं होने का फायदा उठाकर महिला अधिकारी के बाथरूम तक मोबाइल ले गया। महिला को मोबाइल की परछाई देखकर शंका हुई। वह भागकर बाहर निकली और परिजन को घटना बताई। सोमवार को होटल मैनेजर की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित को होटल से गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ छेड़छाड़ और आईटी एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया है।

खुद की पत्नी के भी अश्लील वीडियो बना रखे हैं

छोटी ग्वालटोली पुलिस के मुताबिक आरोपित आशीष पिता झारखंडे शर्मा निवासी अमरीपुर जिला बनारस (यूपी) है। टीआई डीएस नागर ने बताया कि पीड़िता अपने परिवार के साथ होटल गुलमोहर (सरवटे बस स्टैंड के पास) के कमरे में रुकी थी। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि आरोपित टीआई मॉल स्थित अनलिमिटेड शॉप में सहायक मैनेजर है। वह 22 मार्च से होटल के कमरे में ठहरा था। इस दौरान उसने चार-पांच महिलाओं के अश्लील वीडियो बना लिए थे। उसके लैपटाप और मोबाइल की छानबीन में महिलाओं सहित उसकी पत्नी के भी अश्लील वीडियो मिले हैं। पुलिस आरोपित को मंगलवार को कोर्ट में पेश उसका रिमांड मांगेगी।

कई महिलाओं के वीडियो बना चुका है

आरोपित ने पुलिस को बताया कि वह सेल्फी स्टिक का उपयोग करके वीडियो बनाता था। उसे जैसे ही पता चलता था कि उसके बगल वाले कमरे में कोई महिला रुकी हुई है तो वह कमरे में होने वाली गतिविधियों पर ध्यान रखता था। बाथरूम से आवाज आने पर वह अपने बाथरूम में खड़ा हो जाता था। बाथरूम की दीवार एक होने से स्टिक आसानी से दूसरे बाथरूम की खिड़की के अंदर पहुंच जाती थी। आरोपित ने कबूल किया है कि वह लंबे समय से वीडियो बना रहा था।

बाथरूम का कांच टूटा था, होटल ने ठीक नहीं करवाया

रविवार रात की घटना से सतर्क हुई महिला अधिकारी ने सोमवार सुबह बाथरूम और रोशनदान की छानबीन की। उसे लगा कि वहां जाली या कांच नहीं लगे होने का फायदा उठाकर कोई गलत हरकत कर रहा है। पुलिस के मुताबिक महिला की सतर्कता के कारण आरोपित को पकड़ना आसान हो गया। उधर, होटल गुलमोहर के मैनेजर सुरेश पिता सुनील फौजदार निवासी गांधारी नगर (बंगाली चौराहा) और कर्मचारियों ने पुलिस को बताया कि आरोपित की गतिविधियों को लेकर उन्हें कई दिनों से संदेह था। लेकिन सबूत नहीं मिलने से उस पर आरोप नहीं लगा पा रहे थे।

रिकॉर्ड रजिस्टर की होगी जांच

टीआई ने बताया कि होटल का रिकॉर्ड रजिस्टर चेक किया जा रहा है। होटल संचालक ने थाने पर आरोपित के रुकने की जानकारी नहीं दी होगी तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। उधर, आरोपित ने जिस दुकान में खुद को काम करना बताया है, वहां के कर्मचारियों से भी पूछताछ की जाएगी।

वीडियो वायरल करने की आशंका

पुलिस को शंका है कि जिन महिलाओं के वीडियो आरोपित के मोबाइल और लैपटाप में मिले हैं, हो सकता है आरोपित ने उक्त वीडियो को सोशल साइट्स पर वायरल कर दिया हो। हालांकि आरोपित ने प्रारंभिक पूछताछ में वायरल नहीं करने की जानकारी दी है। साइबर एक्सपर्ट की मदद से आरोपित के लैपटॉप, मोबाइल, उसका ईमेल, यूट्यूब अकाउंट सहित अन्य सोशल अकाउंट की जांच की जाएगी।