कपिल शर्मा अपने पिता की मौत के लिए प्रार्थना करते थे | BOLLYWOOD NEWS

Advertisement

कपिल शर्मा अपने पिता की मौत के लिए प्रार्थना करते थे | BOLLYWOOD NEWS

कॉमेडियन और एक्टर कपिल शर्मा ने अपने 38वें जन्मदिन पर अपनी जिंदगी के कई राज खोल दिए। उन्होंने बताया कि वो अपने पिता से झगड़ा भी करते थे। जब पापा को कैंसर से कराहते हुए देखता था, तो प्रार्थना करता था कि भगवान पापा को उठा लो। पिता की मौत के बाद हालात यह बने कि घर चलाने के लिए पैसे भी नहीं थे। 

कपिल शर्मा के करियर में कितने पड़ाव 

कपिल का जन्म आज ही के दिन 1981 में अमृतसर में हुआ था। साल 2013 में फोर्ब्स मैगजीन ने कपिल शर्मा को टॉप-100 हस्तियों की लिस्ट में शामिल किया था। बता दें कि कपिल एक अच्छे एक्टर और कॉमेडियन के साथ-साथ बेहतरीन गायक भी हैं। कपिल शर्मा ने साल 2006 में कॉमेडी शो 'हंस दे हंसा दे' किया। अगले ही साल यानी 2007 में उन्हें 'द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज' में पहला बड़ा ब्रेक मिला। कपिल इस शो के विजेता बने। इसके बाद साल 2010-13 के बीच कपिल 'कॉमेडी सर्कस' के लगातार 6 सीजन के विजेता बने। कॉमेडी में पहचान बनाने के बाद कपिल ने खुद का शो लॉन्च किया 'कॉमेडी नाइट्स विद कपिल शर्मा'। 

पिता पुलिस हवलदार थे, जिंदगी से लड़ना उन्हीं से सीखा

कपिल शर्मा की जिंदगी फर्श से अर्श को छूने की है। उनके पिता पंजाब पुलिस में हवलदार थे और उनके 3 भाई-बहन हैं। कपिल शर्मा आम आदमी की जिंदगी और उससे जुड़ी छोटी-छोटी बातों से कॉमेडी करके मिडिल क्लास के फेवरेट हो गए। एक इंटरव्यू में कपिल ने बताया था कि उन्होंने कभी हार नहीं माना है। यह जज्बा उन्होंने अपने पिताजी से सीखा है। उनके पिता को कैंसर था और उन्होंने इसे आखिरी स्टेज पर परिवार को बताया था, लेकिन फिर वह 10 साल तक बीमारी से लड़ते रहे। 

प्रार्थना करता था कि भगवान पापा को उठा लो

कपिल ने बताया कि एक बार बीमारी की वजह से वह अपने पिता पर ही चिल्ला पड़े थे। उन्होंने अपने पिता पर चिल्लाकर कहा था, 'पापा आपने अपने सिवाय किसी और के बारे में नहीं सोचा। यही वजह है कि आपको कैंसर हो गया।' यही नहीं कपिल ने यहां तक कहा था कि जब पापा को कैंसर से कराहते हुए देखता था, तो प्रार्थना करता था कि भगवान पापा को उठा लो।

घर चलाने लायक पैसा भी नहीं बचा था

कपिल इस बात को हमेशा याद रखते हैं कि उनका परिवार एक साधारण मध्यमवर्गीय परिवार था। पिता का इलाज करने लायक पैसा उनके पास नहीं था लेकिन जो भी उनके पास था, पूरे परिवार ने झोंक दिया था। घर को चलाने के लिए कपिल ने टेलीफोन बूथ पर भी काम किया। जब कपिल शर्मा के पिता का निधन हुआ तो उस समय वह दिल्ली के एम्स अस्पताल में उनके साथ थे और वह उनके पार्थिव शरीर को दिल्ली से अमृतसर लेकर आए थे। उसी दिन उन्होंने अपने परिवार की खातिर मजबूत बनने का फैसला लिया।

कपिल शर्मा की सफलताएं

कॉमेडी करने के अलावा कपिल ने '60th फिल्मफेयर अवॉर्ड', '22nd स्टार स्क्रीन अवॉर्ड', 'झलक दिखला जा 6', '61st फिल्मफेयर अवॉर्ड', '62nd फिल्मफेयर अवॉर्ड' शो को होस्ट भी किया है। कपिल ने बॉलीवुड की 3 फिल्मों 'भावनाओं को समझो', 'किस किस को प्यार करुं' और 'फिरंगी' में भी काम किया है। फिलहाल वह सोनी पर 'द कपिल शर्मा शो सीजन 2' में नजर आ रहे हैं।