Loading...

FACEBOOK: मतदाताओं को प्रत्याशी से जोड़ने के लिए 'कैंडिडेट कनेक्ट' | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। फेसबुक इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर अजीत मोहन ने बताया, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और मशीन लर्निंग (एमएल) की मदद से आपत्तिजनक कंटेंट शेयर करने वाले अकाउंट पर कार्रवाई कर रहा है। मोहन ने बताया, भारत में निष्पक्ष चुनाव और पारदर्शिता के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। 18 महीने पहले से ही यह काम जारी है। दर्जनों लोगों की टीम इस काम में लगी है। कुछ दिनों पहले राजनीतिक विज्ञापनों को लेकर पारदर्शिता बरतने के लिए फेसबुक ने पॉलिटिकल एड ट्रांसपैरेंसी टूल की शुरुआत की है।

कंपनी ने हाल ही में मतदाताओं के लिए दो नए टूल की शुरुआत की। 'कैंडिडेट कनेक्ट' की मदद से मतदाता अपने उम्मीदवार के साथ जुड़ सकेगा और उनके बारे में जान सकता है। जबकि 'शेयर यू वोटेड' से लोग अपने मतदान की जानकारी दोस्तों से साझा कर सकते हैं।

मोहन ने कहा कि इस हफ्ते हम सिंगापुर और डबलिन में नए रीजनल ऑपरेशन सेंटर शुरू करेंगे। इसमें इंजीनियर, ऑपरेशन स्पेशलिस्ट और डाटा साइंटिस्ट की टीम लगी है। एआई और एमएल की मदद से फेक न्यूज और कंटेंट को हटाया जा सकेगा। इसे 24 नई भाषाओं में शुरू किया जाएगा। इसमें 16 भारतीय भाषा शामिल है।