Loading...

हृदयरोगी शिक्षक को चुनाव ड्यूटी पर लगाया, मौत | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ राज्य में निर्वाचन अधिकारी ने एक हृदय रोगी सहायक शिक्षक की चुनाव ड्यूटी नक्सल प्रभावित कांकेर जिले में लगा दी। मतदान के दौरान उसे हार्टअटैक आया। समय पर अस्पताल ना पहुंच पाने के कारण उसकी मौत हो गई। 

कांकेर जिले के निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले के कामता मतदान केंद्र में तैनात सहायक शिक्षक तुकालु राम नरेटी की आज दिल का दौरा पड़ने से मृत्यु हो गई। शासकीय शिक्षक नरेटी की ड्यूटी आज कांकेर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत अंतागढ़ विधानसभा क्षेत्र में लगाई गई थी। आज सुबह छह बजे मतदान शुरू होने से पहले नरेटी ने सीने में दर्द की शिकायत की और बेहोश होकर वहीं गिर पड़े। घटना के बाद वहां मौजूद अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 

मरीजों की जान से क्यों खेलता है चुनाव आयोग
चुनाव ड्यूटी के नाम पर राज्यों में कर्मचारियों के शिकार का खेल चलता है। निर्वाचन अधिकारी किसी शिकारी की तरह चुनाव ड्यूटी के लिए कर्मचारियों को घेरता है। यदि कर्मचारी बताता है कि वो बीमार है तो उसकी बात पर संदेह जताया था। सवाल यह है कि चुनाव आयोग ड्यूटी पर जाने वाले कर्मचारियों का अनिवार्य मेडीकल क्यों नहीं कराता।