Loading...

E-TENDER SCAM: शिवराज सिंह के बंगले पर जातीं थीं फाइलें: मंत्री गोविंद सिंह | MP NEWS

भोपाल। करीब 3000 करोड़ के ई-टेंडरिंग घोटाला मामले में कमलनाथ सरकार के सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह ने बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है कि बीजेपी सरकार में करीब एक लाख करोड़ के घोटाले हुए। ई-टेंडरिंग की फाइलें तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान के बंगले पर जाती थीं। ई-टेंडरिंग का जिम्मा आरएसएस के कुछ बड़े पदाधिकारियों पर था।

घोटाले में शामिल नेता जेल जाएंगे: सज्जन सिंह 

इससे पहले आम्बेडकर जयंती के अवसर पर महू पहुंचे राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने ई टेंडरिंग घोटाले को लेकर कहा कि इसमें शामिल नेता भी जेल जाएंगे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बदले की भावना से काम नही कर रही बल्कि उन्होंने तो शिवराज सरकार की जांच को आगे बढ़ाया है। शिवराज सरकार ने ही जांच के आदेश दिए थे लेकिन बाद मे वो जांच ठंडे बस्ते में चली गई उसी जांच को सरकार आगे बढ़ा रही है जिसमें दोषी राजनेता भी अब जेल की हवा खाएंगे।

ई-टेंडरिंग घोटाला में अब नेताओं की बारी: गृहमंत्री बाला बच्चन

वही गृह मंत्री बाला बच्चन ने भी मंत्री सज्जन वर्मा के सुर में सुर मिलाते हुए कहा कि हमारी सरकार दोषियों को छोड़ने वाली नहीं है। इसमें अब नेताओं की बारी है। उन्होने पूर्व मंत्री नरोत्तम के उस बयान का भी जवाब दिया जिसमें नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि ईटेंडरिंग घोटाला यदि सही तो इसमें शामिल लोगों पर नामजद एफआईआर क्यों नहीं दर्ज कराई गई। अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर हुई है। इस बाला बच्चन ने कहा कि बीजेपी सरकार के मंत्री हार को पचा नहीं पा रहे हैं।