DIGVIJAY SINGH फॉर्म में लौट रहे हैं, RSS को शहीदों का अपमान करने वाला शैतान बताया | NATIONAL NEWS

भोपाल। लम्बे समय के बाद दिग्विजय सिंह अपने पुराने ट्रैक पर नजर आए। लोकसभा चुनाव 2019 में प्रत्याशी बनाए जाने के बाद से वो लगातार दवाब में नजर आ रहे थे। संघ पर ताबड़तोड़ हमला करने वाले दिग्विजय सिंह अपनी प्रतिस्पर्धी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह के बयानों पर भी चुप थे। मीडिया को देखते ही मौन मंत्र का जप शुरू कर देते थे परंतु आज उन्होंने संघ पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने संघ को शैतान बताया है। 

हमने संघ की नहीं संविधान की शपथ ली है

दिग्विजय सिंह ने एक के बाद एक ट्वीट कर अपनी बात कुछ इस तरह कही। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया-संघ के लोगों के लिए भारत “माता” कुछ भी नहीं। संघ ही सब कुछ है! शहीद हेमंत करकरे के विरुद्ध संघ के लोगों के बयान से साफ़ है कि उनके लिए भारत “माता” नहीं, संघ ही सब कुछ है!जो संघ की मर्ज़ी के ख़िलाफ़ बोले वो देशद्रोही है। उन्होंने आगे लिखा-भारत के शहीद भी अगर संघ को पसंद नहीं तो वो “शैतान” हैं। हमने संघ की नहीं, संविधान की शपथ ली है। हम भारत माता के भक्त हैं।

मज़बूत राष्ट्र के पीछे कांग्रेस की कुर्बानियाँ शामिल हैं

दिग्विजय सिंह ने उसके बाद दूसरा ट्वीट किया। उसमें लिखा कि भारत आज एक मज़बूत राष्ट्र है। इसमें संघ की नहीं, कांग्रेस के लोगों के कुर्बानियाँ शामिल हैं। महात्मा गांधी, इंदिरा जी, राजीव जी के बलिदान हैं। छत्तीसगढ़, कश्मीर, पंजाब, असम, मणिपुर, त्रिपुरा..देश की मिट्टी में कांग्रेस का ख़ून मिला हुआ है। उस ख़ून की ख़ुश्बू संघ को नहीं आती।

शहीद भी आपके लिए बस राजनीति हैं

दिग्विजय सिंह ने तीसरा ट्वीट किया। उसमें लिखा- नेहरु जी ने नए राष्ट्र के रूप में भारत की नींव रखी। उसमें संघ के श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी सम्मानपूर्वक शामिल किया, सबको साथ लिया। आप जो राष्ट्र बना रहे हैं, उसमें शहीदों तक का सम्मान नहीं। महात्मा गांधी, इंदिरा जी, राजीव जी से हेमंत करकरे तक सब आपके लिए बस राजनीति है? क्यों?