LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




SATTA MARKET बोला: भाजपा 250, कांग्रेस 77, मोदी पर चुप

18 March 2019

नई दिल्ली। सट्टा बाजार के रुझान आना शुरू हो गए हैं। सबसे पहला रुझान राजस्थान से आ रहा है। यहां चुनावी सटोरियों ने एक बार फिर भाजपा सरकार बनने की संभावना जताई है जबकि कांग्रेस की हालत बेहद चिंताजनक बताई है। सट्टा बाजार का अनुमान है कि इस बार भाजपा को 250 जबकि एनडीए को 310 सीटें मिलेंगी। कांग्रेस 74 पर सिमट जाएगी। नरेंद्र मोदी को लेकर फिलहाल कोई भाव नहीं खोला गया है। 

जोधपुर में फलोदी स्थित सट्टा बाजार में लोग केंद्र में एनडीए की सरकार बनने पर सट्टा लगा रहे हैं। सट्टा बाजार के मुताबिक इस बार लोकसभा चुनाव में भाजपा को 250 से ज्यादा सीटें मिल सकती हैं जबकि एनडीए के खाते में 300 से 310 सीटें जा सकती हैं। टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक सट्टा बाजार का मानना है कि राजस्थान में भगवा पार्टी को 18 से 20 सीटें मिल सकती हैं। बता दें कि राजस्थान में लोकसभा की 25 सीटें हैं। 

सट्टा बाजार के अनुसार पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद पाकिस्तान स्थित बालाकोट में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) की कार्रवाई से भाजपा को लाभ मिलता दिख रहा है। बालाकोट में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर को निशाना बनाए जाने के बाद लोगों की भावनाएं भाजपा के साथ आती दिख रही हैं। लोगों का मानना है कि इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि एक मजबूत और सख्त नेता के रूप में उभरी है।

रिपोर्ट के मुताबिक फलोदी के बुकी हवाई हमले से पहले एनडीए के लिए 280 सीटों और भाजपा के लिए 200 से ज्यादा सीटों का अनुमान लगा रहे थे लेकिन उनका अब कहना है कि हवाई हमले के बाद स्थितियां बदल गई हैं और जनता का मूड एनडीए के पक्ष में जाता दिखने लगा है। 

सट्टा बाजार ने इसके पहले कांग्रेस के लिए 100 सीटों का अनुमान जताया था लेकिन अब यह संख्या घटकर 72-74 सीटों पर आ गई है। सट्टा बाजार ही नहीं राजनीतिक गलियारों एवं आम लोगों के बीच यह धारणा बनी है कि बालाकोट में भारतीय वायु सेना की कार्रवाई के बाद वोटरों का झुकाव भाजपा की तरफ बढ़ा है। लोगों को मानना है कि भाजपा सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति ज्यादा गंभीर है।

बता दें कि गत 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले में 40 जवान शहीद हो गए। इसके बाद भारतीय वायु सेना ने 26 फरवरी को बालाकोट में हवाई हमले किए जिसमें बड़ी संख्या में आतंकवादियों के मारे जाने की बात कही गई है।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->