Loading...

MP NEWS | शिक्षकों के रिक्त पदों की गिनती कर रहा है शिक्षा विभाग

भोपाल। मध्यप्रदेश उच्च माध्यमिक एवं माध्यमिक शिक्षक पद पर पात्रता परीक्षा समाप्त हो चुकी है। परीक्षा पूर्ण होने के बाद शिक्षा विभाग प्रदेश भर के स्कूलों से एक बार फिर रिक्त पदों की जानकारी मांग रहा है। यानी विज्ञापन में शिक्षकों के जितने भी पद अंकित थे, भर्तियां उनसे इतर होंगी। ये पद कम या ज्यादा हो सकते हैं। 

बता दें कि मध्यप्रदेश में अतिथि शिक्षकों की संख्या 50 हजार से ज्यादा है। इसके अलावा और भी कई सारे पद हैं जो खाली पड़े हुए हैं जहां अतिथि शिक्षकों की नियुक्तियां नहीं हुईं हैं। शिक्षा विभाग ने पिछले साल कुछ स्कूलों को मर्ज करने की योजना भी बनाई थी। एक बार फिर गुणा भाग चल रहा है कि रिक्त पदों में से मर्ज किए गए स्कूलों के पदों को घटाने के बाद क्या बचेगा। 

10 लाख से ज्यादा उम्मीदवार नौकरी के इंतजार में

बता दें कि मध्यप्रदेश में 10 लाख से ज्यादा बीएड/डीएड उम्मीदवार शिक्षा विभाग में नौकरी के इंतजार में हैं। बीएड/डीएड डिग्री के कारण उनके पास कोई दूसरा विकल्प भी नहीं है। इधर अतिथि शिक्षकों की मांग है कि सभी को एक साथ उसी स्थान पर नियमित कर दिया जाए। ऐसा नही किया जाता तो कम से कम उनकी सेवाएं तो नियमित ली जातीं रहें।