Loading...

माफिया आया, BJP विधायक से होली मिला और गोली मारकर चला गया | NATIONAL NEWS

पटना। लखीमपुर के भाजपा कार्यालय में होली खेली जा रही थी कि तभी खनन माफिया अपने गुर्गों के साथ आया। वो विधायक से होली के लिए गले मिला और फिर उसने विधायक को गोली मार दी। फायर करते ही माफिया कार में बैठकर निकल गया। 

बताया जा रहा है कि करीब तीन बजे बीजेपी विधायक योगेश वर्मा रंग खेल कर लौट रहे थे। तभी लखीमपुर कोतवाली के गुरुनानक डिग्री कालेज के पास कार से आये हमलावरों ने पहले विधायक से होली मिली और फिर हमला कर दिया। हमलावर कार से भागने में सफल हो गए। हमलावर खनन माफिया बताये जाते हैं। बीजेपी विधायक योगेश वर्मा के पैर में गोली लगी। वो गंभीर रूप से घायल हुए। उन्हे तुरंत अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों का कहना है कि अब उन्हे जान का खतरा नहीं है। एसपी लखीमपुर, पूनम के अनुसार मामला दर्ज किया गया है, जांच चल रही है। डीएम और एसपी ने अस्पताल पहुंचकर विधायक का हालचाल लिया है।

लखीमपुर खीरी के डीएम एस सिंह ने बताया कि लखीमपुर सदर विधायक योगेश वर्मा से कुछ लोगों की मुलाकात हो रही थी, जब उनसे बहस हो गई जिसके बाद उन्हें गोली मार दी गई। वह खतरे से बाहर है। वह अभी सदमे की स्थिति में है और अभी बयान देने में असमर्थ है। जांच चल रही है।

विधायक के गनर को सस्पेंड कर दिया गया है। लखीमपुर की एसपी पूनम ने बताया कि अभी तक किसी पिंकी सक्सेना नाम के युवक का नाम सामने आया है, जिसकी तलाश में टीमों को रवाना कर दिया गया है। मामला दर्ज किया गया है, जांच चल रही है। लखीमपुर के जिलाधिकारी एस सिंह ने बताया कि विधायक योगेश वर्मा से कुछ लोगों से मुलाकात के दौरान उनकी बहस हो गई। उन्हीं लोगों में से एक ने उन्हें गोली मार दी। अस्पताल में भर्ती विधायक अभी सदमे में हैं। उनके ठीक होने पर बयान लिया जाएगा।

वर्ष 2017 में भी सदर विधायक योगेश वर्मा व उनके प्रतिनिधि पर खनन माफिया ने फायरिंग कर दी थी, जिसमें वह बाल-बाल बचे थे। विधायक का कहना था कि अवैध खनन के विरोध के कारण हमला करवाया गया था। इस मामले की मुकदमा भी दर्ज करवाया गया था।