Loading...    
   


BJP महासचिव के खिलाफ रक्षामंत्री के फर्जी हस्ताक्षर करने की FIR दर्ज | NATIONAL NEWS

हैदराबाद। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव के खिलाफ जालसाजी और धोखाधड़ी के आरोप में आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है। आरोप है कि मुरलीधर राव ने केंद्र में पद दिलाने के बदले 2 करोड़ रुपए लिए एवं भारत के रक्षा मंत्री के फर्जी हस्ताक्षर किए। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव पर आरोप है कि उनकी सक्रिय मिलीभगत से शिकायतकर्ता को केंद्र सरकार में एक नामित पद दिलाने का वादा करके दो करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी की गई। बीजेपी नेता मुरलीधर राव पर आरोप है कि उन्होंने कुछ दस्तावेजों पर केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के फर्जी हस्ताक्षर भी किए थे।

पी मुरलीधर राव ने कहा: यह तो पुराना मामला है

मामला दर्ज होने के बाद बीजेपी नेता पी मुरलीधर राव ने एक ट्वीट करके सफाई पेश की। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि जो एफआईआर दर्ज की गई है। उसका वर्तमान विवाद से कोई लेना-देना नहीं है। बीजेपी नेता ने लिखा कि कथित तौर पर उनका नाम एफआईआर शामिल किए जाना एक निजी शिकायत के आधार पर अदालत में चल रहे मामले की अगली कड़ी है। जो एक पुराने मामले से जुड़ा है।

पुलिस झूठ का पर्दाफाश करेगी 

बीजेपी नेता पी मुरलीधर राव ने अपने ट्वीट में आगे लिखा कि ये एक निजी शिकायत थी। जिसका कोई आधार नहीं है। इसे एक शरारत माना जा सकता है। आशा है कि पुलिस इस मामले में झूठ का पर्दाफाश करने के लिए जल्द कार्रवाई करेगी। मेरे वकील दोषियों को सजा दिलाने के लिए उचित कदम उठाएंगे।

पार्टी ने कहा: हम पी मुरलीधर राव के साथ हैं

इस मामले पर तेलंगाना बीजेपी के मुख्य प्रवक्ता कृष्ण सागर राव ने एक बयान जारी करके बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव पर कुछ फर्जी लोगों द्वारा दर्ज की गई भद्दी एफआईआर का मकसद केवल उनकी छवि और पार्टी की छवि को धूमिल करना है। उनके वकील इस मामले में उचित कानूनी कार्रवाई करेंगे। भाजपा ऐसे लोगों को चेतावनी देती है जो गलत उद्देश्यों के साथ साजिश रच रहे हैं। उन्हें इसके गंभीर कानूनी परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। कृष्ण सागर राव ने पार्टी की तरफ से कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि उनकी पार्टी के नेता ने कोई गलत काम नहीं किया है।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here