BHOPAL में सरेआम 16 वर्षीय लड़की के अपहरण की कोशिश | MP NEWS

भोपाल। बीमार नानी की देखरेख के नाम पर महाराष्ट्र से भोपाल आई 11वीं की छात्रा का महाराष्ट्र से आए युवक शुभम सबकर ने सरेआम अपहरण करने की कोशिश की। इस प्रयास में उसने पहले लड़की के नाना को चाकू मारा, फिर नानी को धक्का देकर गिराया। मामा सामने आया तो उसे भी चाकू मारा। बाहर निकला तो भीड़ ने उसे घेर लिया था। यह देख उसने खुद को चाकू मारकर घायल कर लिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। किस्सा लव स्टोरी का लग रहा है परंतु पुलिस का आधिकारिक बयान नहीं आया है। 

मूलत: महाराष्ट्र निवासी 16 वर्षीय किशोरी 11वीं की छात्रा है। उसके मामा ने बताया कि अपनी बीमार नानी की देखरेख के लिए वह 4 महीने पहले भोपाल आई थी। मंगलवार दोपहर साढ़े तीन बजे छात्रा अपने ननिहाल में ग्राउंड फ्लोर पर थी। तभी कुंडी खोलकर बुलढाना, महाराष्ट्र निवासी शुभम सबकर (22) घर में घुस आया। छात्रा का हाथ पकड़कर बाहर खींचने लगा। शोर सुनकर पहली मंजिल पर आराम कर रहे छात्रा के नाना उतरे और बीच-बचाव करने लगे। तभी आरोपी ने उन पर चाकू से दो वार कर दिए। बुजुर्ग नानी को धक्का देकर गिरा दिया। तभी घर लौटे मामा के हाथ पर भी चाकू मार दिया। सवाल करने पर वह यही कहता रहा कि आज तो इसे लेकर ही जाऊंगा।

चाकू से खुद की नस काट ली 
अब तक छात्रा को शुभम घर के बाहर तक खींच लाया था। शोर शराबा सुनकर मोहल्ले के लोग भी इकट्ठा होने लगे। लोग दहशत में थे। छात्रा के नाना और मामा खून से लथपथ थे। खुद को घिरता देख शुभम ने उसी चाकू से अपने दाहिने हाथ की नस काट ली। इस बीच एक रहवासी की सूचना पर कोलार थाने की एफआरवी भी यहां पहुंच गई। इसके बाद लोगों की मदद से उसे पकड़कर थाने ले आए।

कार में बैठा था दोस्त, पुलिस को देखकर फरार हो गया
शुभम अपने एक दोस्त के साथ कार से यहां आया था। रहवासियों ने परिवार को बताया है कि पुलिस को देखकर शुभम का साथी कार लेकर फरार हो गया। टीआई अनिल वाजपेयी का कहना है कि फिलहाल ये खुलासा नहीं हुआ है कि आरोपी अपने घर से 450 किमी दूर छात्रा को अगवा करने आया क्यों था? क्योंकि छात्रा का कहना है कि आरोपी उसकी सहेली का दोस्त है। उसके बारे में वह और कुछ नहीं जानती। फिलहाल आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। तकनीकी जांच और परिवार के बयान के बाद वारदात की वजह सामने आ सकेगी।