Loading...

RAHUL की सभा में भीड़ के लिए विधायकों को टारगेट | MP NEWS

भोपाल। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भोपाल में होने वाली रैली में भीड़ जुटाने के लिए CONGRESS भी BJP के पैटर्न पर काम कर रही है। PCC ने सारी जिम्मेदारी सरकार पर सौंप दी है। विधायकों को टारगेट दिए गए हैं। इंदौर से 5 हजार लोगों को लाने का टारगेट दिया गया है। इसके अलावा विदिशा, सीहोर, होशंगाबाद एवं अशोकनगर तक के जनप्रतिनिधियों को टारगेट दिए गए हैं। भोपाल में मंत्री आरिफ अकील ने तो धमकी दी है कि जो भीड़ नहीं लाएगा उस पर जुर्माना लगाया जाएगा। 

सभा में भीड़ जुटाने को लेकर सभी को टारगेट दिया गया है। सभा को लेकर मंगलवार को शाम 6 बजे कांग्रेस ने इंदौर में एक बैठक बुलाई है। श्रीराम मंदिर पंचकुइयां पर होने वाली इस बैठक में मंत्री जीतू पटवारी, विधायक संजय शुक्ला और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल व अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे। यहां तय किया जाएगा कि इंदौर एवं आसपास से कितनी ज्यादा संख्या में लोगों को ले जाया जा सकता है। 

सरकार बनने के बाद शक्तिप्रदर्शन करेगी CONGRESS 


प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद यह पहला मौका है, जब कांग्रेस नेताओं को शक्ति प्रदर्शन दिखाने का अवसर मिला है। सभा में इंदौर के वे नेता भी भीड़ लेकर जाने की तैयारी में हैं, जिन्हें IDA, निगम मंडल या संगठन में अहम पद की आस है। इंदौर से 30 नेता भीड़ के साथ भोपाल जाएंगे। 

इंदौर विधानसभा क्रमांक-1 के विधायक संजय शुक्ला और देपालपुर विधायक विशाल पटेल को युवाओं को ज्यादा से ज्यादा संख्या में भोपाल ले जाने और लाने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट और जीतू पटवारी के समर्थकों को भी भीड़ लेकर सभा में पहुंचने को कहा गया है।