Loading...

औपचारिकेत्तर शिक्षकों ने संविदा शिक्षक पद पर नियुक्ति मांगी | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। शासकीय औपचारिकेत्तर शिक्षा संघ के अध्यक्ष डाॅ. रमेश द्विवेदी ने आज यहां प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष और संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर से मिलकर सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के अनुरूप औपचारिकेत्तर शिक्षा केंद्रों के शेष बचे अनुदेशकों और पर्यवेक्षकों को संविदा शिक्षक वर्ग तीन के पद पर नियुक्त करने के लिये मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम पर एक स्मरण पत्र सौंपा।

पत्र में उल्लेख है कि ये अनुदेशक 18 वर्षों से न्याय के लिये भटक रहे हैं। कांगे्रस के वचन पत्र में अनुदेशक और पर्यवेक्षकों को संविदा शिक्षक वर्ग तीन के पद पर नियुक्ति देने का वचन दिया गया है। पत्र में लिखा है कि केंद्र प्रवर्तित औपचारिकेत्तर योजना के अंतर्गत सन 74-75 में अनुदेशकों और पर्यवेक्षकों की भर्ती की गयी थी। इनके मानदेय का 80 प्रतिशत भुगतान केंद्र सरकार और 20 प्रतिशत राज्य सरकार करती थी। 

योजना के तहत लगभग 37 हजार अनुदेशक और पर्यवेक्षक कार्यरत थे। इनमें से अधिकांश शिक्षक संविदा शिक्षक और अध्यापक बन चुके हैं। शेष बचे 5 हजार 126 अभी भी बाट जोह रहे हैं। अतः इनका कार्यानुभव और वरिष्ठता के आधार पर संविदा शिक्षक वर्ग तीन में संविलियन किया जाये। श्री शेखर ने इस पत्र पर शासकीय स्तर पर शीघ्र कार्यवाही करवाने का आश्वासन दिया।