मध्यप्रदेश: आशुतोष राणा कांग्रेस में भविष्य तलाश रहे हैं, जबलपुर से चुनाव लड़ना चाहते हैं | MP NEWS

Advertisement

मध्यप्रदेश: आशुतोष राणा कांग्रेस में भविष्य तलाश रहे हैं, जबलपुर से चुनाव लड़ना चाहते हैं | MP NEWS

जबलपुर। बॉलीवुड में अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुके आशुतोष राणा पिछले कुछ समय से धुंध में खो गए थे परंतु अब फिर से लाइम लाइट में आ गए हैं। उनकी फिल्म सिंबा अच्छी कमाई कर रही है। इधर कांग्रेस नेताओं के साथ उनकी दोस्ती भी काम आती नजर आ रही है। आशुतोष राणा को मध्यप्रदेश की जबलपुर सीट से लोकसभा प्रत्याशी बनाए जाने की चर्चा शुरू हो गई है। 

कहा जा रहा है कि कांग्रेस का अगला टारगेट लोकसभा चुनाव है। वो 29 में से कम से कम 15 सीटें जीतना चाहती है। आशुतोष राणा ने जबलपुर के कांग्रेस नेताओं को अपनी मंजूरी दे दी है। कांग्रेस नेताओं ने भी आशुतोष राणा के लिए लॉबिंग शुरू कर दी है। इसको लेकर राणा और कांग्रेस नेताओं के बीच पिछले कुछ दिनों में बैठकें भी हो चुकी हैं। अध्यात्मिक गुुरु दद्दाजी के कारण आशुतोष राणा की जबलपुर में कुछ अलग तरह की फेन फॉलोविंग हैं। 

आधिकारिक कुछ भी नहीं, नीखरा कर रहे हैं मध्यस्थता
फिलहाल आधिकारिक कुछ भी नहीं है। ना तो आशुतोष राणा ने स्पष्ट तौर पर कुछ कहा है और ना ही कांग्रेस की ओर से कोई आधिकारिक बयान आया है। कांग्रेस नेता रामेश्वर नीखरा उनके रिश्तेदार हैं। वही मध्यस्थता कर रहे हैं। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि आशुतोष राणा पहले कांग्रेस ज्वाइन कर लें फिर लोकसभा के लिए दावेदारी करें जबकि आशुतोष राणा चाहते हैं कि उन्हे टिकट के लिए आश्वासन मिल जाए फिर वो राजनीति में कदम रखेंगे। 

आशुतोष राणा के प्लस पाइंट
फिल्म अभिनेता आशुतोष राणा का जबलपुर से गहरा नाता रहा है। मूलत: नरसिंहपुर के रहने वाले आशुतोष राणा मुंबई में बसने के बाद भी अपने क्षेत्र से जुड़े रहे हैं। वे दद्दाजी के धार्मिक अनुष्ठानों के जरिए क्षेत्र में लगातार सक्रियता बनाए हुए हैं। श्री राणा की स्कूली शिक्षा जबलपुर में ही हुई है, वे क्राइस्टचर्च ब्वॉयज स्कूल से अध्ययन कर चुके हैं और जबलपुर में उनके काफी परिचित हैं। यदि वे चुनाव लड़ते भी हैं तो उनके ऊपर भाजपा बाहरी प्रत्याशी होने का आरोप नहीं लगा सकती।