मकर संक्रांति के बाद भी मप्र के 9 जिलों मे शीतलहर का अलर्ट जारी | MP NEWS

भोपाल। मकर संक्रांति के बाद सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं और सर्दियां कम होने लगतीं हैं परंतु इस साल ऐसा होता नजर नहीं आ रहा है। मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है कि मध्यप्रदेश के 9 जिले आने वाले 24 घंटे में शीतलहर की चपेट में आ सकते हैं। यानी इन जिलों में रोगियों को विशेष ​चिंता करने की जरूरत है और ठंड से बचने के सभी उपाय किए जाने चाहिए। 

भोपाल में शीतलहर का असर देखने को मिलने लगा है। अनुमान है कि अगले कुछ दिन कड़ाके सर्दी पड़ने के आसार हैं। दरअसल, हिमालयी क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ का असर आज से दिखाई देना शुरू हो गया है। पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और आसमान खुलते ही उत्तरी हवाओं का रुख मध्य प्रदेश की तरफ हो गया है। बुधवार सुबह से ठंड के तेवर और तीखे महसूस होंगे। 

कश्मीर में जारी बर्फबारी और उत्तरी हवाओं का पूरे प्रदेश पर बना हुआ है। 12 से 20 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हवाएं लोगों को कंपा दे रही हैं। बीते एक सप्ताह से अधिकतम और न्यूनतम तापमान में इजाफे के बाद सोमवार से इसमें दो से तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। मंगलवार रात से एक बार फिर पारा और ज्यादा लुढ़क जाने की उम्मीद मौसम विभाग ने जताई है। 

सोमवार से बढ़ा असर: 
वरिष्ठ मौसम विज्ञानी एके शुक्ला के अनुसार सोमवार से उत्तरी हवाओं से भोपाल सहित पूरे प्रदेश में ठंड का असर बढ़ा है। खजुराहों में जहां न्यूनतम तापमान 2 डिग्री पर जा पहुंचा है, वहीं करीब एक सप्ताह से भोपाल में 10 डिग्री के पार चल रहा न्यूनतम तापमान सोमवार रात से 7.2 डिग्री पर पहुंच गया है। इतना ही नहीं अधिकतम तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट के साथ ये 23.0 डिग्री पर पहुंच गया है। 

मंगल की रात से ठंडी हवाएं तेज
मौसम वैज्ञानिक एके शुक्ला के अनुसार मंगलवार रात से उत्तरी हवाओं की रफ्तार बढ़ सकती है। इसका असर न्यूनतम तापमान पर भी पढ़ेगा औऱ ये लुढ़ककर एख बार फिर चार से पांच डिग्री तक जा सकता है। इसी के अनुपात में अधिकतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा सकती है 2 से तीन डिग्री लुढ़ककर 20 डिग्री पर आ सकता है। 

ये हैं वो 9 जिले जहां मौत के समान सरसराएंगी हवाएं
छतरपुर, पन्ना, रीवा, सतना, सिंगरौली, उमरिया, बालाघाट ग्वालियर और दतिया।