खून से विष्णु कंसाना का नाम लिखकर 12वीं की छात्रा ने सुसाइड कर लिया | GWALIOR MP NEWS

21 January 2019

ग्वालियर। कक्षा 12वीं की छात्रा ने खुदकुशी कर ली। छात्रा ने खुदकुशी करने से पहले अपनी अंगुली में सेफ्टी पिन चुभोई। अंगुली से निकले खून से सुसाइड नोट लिखा। फिर अपने दुपट्टे से फांसी लगाकर जान दे दी। छात्रा ने सुसाइड नोट में विष्णु कंसाना नाम के युवक को मौत का जिम्मेदार बताया है। घटना थाटीपुर क्षेत्र की है। पुलिस ने सुसाइड नोट और छात्रा का मोबाइल जब्त कर लिया है। पुलिस पता लगा रही है कि जिस युवक को उसने मौत का जिम्मेदार बताया है, वह कौन है? फिलहाल पुलिस ने मृतका के शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। 

थाटीपुर स्थित सुरेश नगर निवासी राजेन्द्र सिंह रावत एक निजी फैक्टरी में वर्कर हैं। उनकी बड़ी बेटी राशी रावत उम्र 18 साल कक्षा 12वीं की छात्रा थी, जबकि छोटी बेटी कक्षा-10 में पढ़ती है। शनिवार रात को राशी और उसकी बहन ने खाना खाया। इसके बाद राशी उस कमरे में सोने चली गई, जिसमें उसकी दादी सोती थीं। शनिवार को दादी दूसरे कमरे में सो गई थीं। अंदर से उसने दरवाजा बंद कर लिया। सुबह करीब 9 बजे तक जब वह बाहर नहीं आई तो परिजन उठाने गए। काफी देर दरवाजा खटखटाया लेकिन दरवाजा नहीं खुला। परिजन ने खिड़की का दरवाजा तोड़कर देखा तो राशी कमरे के अंदर फांसी के फंदे से लटकी हुई थी। 

चीख पुकार सुनकर पड़ोसी भी आ गए। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। थाटीपुर थाना पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो सुसाइड नोट मिला। छात्रा की एक अंगुली पर खून लगा हुआ था। पास में ही पिन पड़ी थी। छात्रा ने अपने खून से ही सुसाइड नोट लिखा था। बिस्तर पर ही मोबाइल मिला। मोबाइल में पैटर्न लॉक था तो मोबाइल खुल नहीं सका। 

पुलिस की जांच के दो एंगल: 
पुलिस को आशंका है कि छात्रा को कोचिंग, ट्यूशन आते जाते परेशान करता होगा, जिससे परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली। या फिर छात्रा की उससे दोस्ती रही होगी और किसी कारण झगड़े के बाद उसने आत्महत्या की होगी। इन दोनों ही एंगल पर पुलिस जांच कर रही है। पुलिस छात्रा की कॉल डिटेल भी निकलवाएगी, जिससे यह पता लग सके कि उसने आखिरी समय किससे बात की। 

पिता बोले, नहीं जानते कौन हैं विष्णु: 
छात्रा के पिता राजेन्द्र का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि विष्णु कंसाना कौन है। उन्हें यह भी नहीं पता कि विष्णु कंसाना का उनकी बेटी से क्या कनेक्शन था। जबकि पुलिस को प्रारंभिक पड़ताल में पता लगा है कि परिजनों को उसके बारे में पता है। अभी परिजनों के बयान होना बाकी हैं। 

बहन के साथ सोती थी, अकेले कमरे में सोने गई: 
राशी अपनी छोटी बहन के साथ ही सोती थी। लेकिन शनिवार को वह अकेले ही कमरे में सोने चली गई। बताया गया है कि शनिवार को दादी दूसरे कमरे में सो गईं तो वह दादी के कमरे में चली गई। वैसे दरवाजा नहीं लगाती थी लेकिन रात में उसने दरवाजा अंदर से बंद किया। 



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->