KAMAL NATH मंत्रिमंडल के शपथग्रहण की तारीख तय | MP NEWS

Advertisement

KAMAL NATH मंत्रिमंडल के शपथग्रहण की तारीख तय | MP NEWS

भोपाल। कमलनाथ मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण कीतारीख तय हो गई है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से मुलाक़ात की। इस दौरान तारीख तय की गई। शपथ ग्रहण समारोह दोपहर में होगा। राज्यपाल से मुलाक़ात के बाद सीएम कमलनाथ दिल्ली रवाना हो गए। नये विधायकों को 7 जनवरी को शपथ दिलायी जाएगी। राज्यपाल का अभिभाषण 8 जनवरी को होगा। मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह 23 दिसम्बर को होगा। 

इन विधायकों को जगह नहीं मिलेगी
सीएम कमलनाथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलने राजभवन पहुंचे। उन्होंने राज्यपाल को बताया कि प्रदेश के नये मंत्रिमंडल का गठन 23 दिसंबर को किया जाएगा। दोपहर में शपथ ग्रहण समारोह होगा, जिसमें मंत्री पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। नये मंत्रिमंडल में कांग्रेस को समर्थन दे रहे सपा और बसपा विधायकों को जगह नहीं दी जाएगी क्योंकि चुनाव में इन दलों ने कांग्रेस को समर्थन नहीं दिया था। पहली बार बने विधायक भी मंत्रिमंडल में जगह नहीं पा सकेंगे।

राज्यपाल से मुलाक़ात के बाद कमलनाथ दिल्ली रवाना हो गए। दिल्ली में वो पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के और प्रदेश पर्यवेक्षक ए के एंटोनी से मुलाकात कर मंत्रिमंडल गठन पर चर्चा करेंगे। उसके बाद नाम फायनल होंगे। प्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद कमलनाथ ने इसी हफ़्ते 17 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। उसके बाद से नये मंत्रिमंडल गठन को लेकर चर्चा चल रही है। नये मंत्रिमंडल में जाति क्षेत्र के साथ पार्टी के क्षत्रपों के बीच संतुलन बनाना उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती होगा। देखना होगा कि दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों को किस तरह से मंत्रिमंडल में जगह औऱ तवज्जो मिलती है।

37 विधायकों के नाम की चर्चा
मालवा-निमाड़ से 11 : सज्जन सिंह वर्मा, हुकुमसिंह कराड़ा, विजय लक्ष्मी साधौ, बाला बच्चन, तुलसी सिलावट, उमंग सिंघार, जीतू पटवारी, सचिन यादव, राज्यवर्द्धन सिंह दत्तीगांव, दिलीप सिंह गुर्जर या रामलाल मालवीय।
विंध्य से 2 : बिसाहू लाल, कमलेश्वर पटेल। 
मध्य से 5 : आरिफ अकील, डॉ. प्रभुराम चौधरी, पीसी शर्मा, लक्ष्मण सिंह या जयवर्द्धन सिंह।

ग्वालियर-चंबल से 6 : डॉ. गोविंद सिंह, केपी सिंह, एंदल सिंह कंसाना, लाखन सिंह, प्रद्मनयु सिंह और इमरती देवी।
बुंदेलखंड से 4 : ब्रजेंद्र सिंह राठौर, गोविंद सिंह राजपूत, हर्षयादव और विक्रम सिंह।
महाकौशल से 7 : एनपी प्रजापति, तरुण भानौत, दीपक सक्सेना, लखन घनघोरिया, ओमकार सिंह मरकाम, सुखदेव पांसे, हिना कावरे।

निर्दलीय 2 : चार बार के विधायक प्रदीप जायसवाल और सुरेंद्र सिंह उर्फ शेरा।
विधानसभा अध्यक्ष : डॉ. गोविंद सिंह, केपी सिंह, डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ, एनपी प्रजापति में किसी एक को विधानसभा अध्यक्ष बनाया जा सकता है।