CM शिवराज के गांव में डंपर ने महिलाओं को कुचला, भीड़ ने आग लगाई | MP NEWS

05 December 2018

होशंगाबाद। सीएम शिवराज सिंह चौहान के गांव जैत में के नजदीक बांद्राभान में रेत के एक डंपर ने आॅटो रिक्शा में टक्कर मार दी। इस हादसे में दो महिलाओंं की मौत हो गई। 4 लोग गंभीर घायल हो गए। हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने डंपर को जला दिया। 

पुलिस के मुताबिक डंपर एमपी 05 जी 8022 ने मंगलवार दोपहर 12 बजे बिना नंबर के ऑटो काे टक्कर मार दी। ऑटो में सवार ग्वालटोली निवासी यशोदा बाई पति फूलचंद अहिरवार (52) की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे से गुस्साए ग्रामीणों ने डंपर में आग लगा दी। डंपर का कैबिन जलकर खाक हो गया। दूसरी महिला लक्ष्मीबाई पति रमेश प्रसाद सैनी (50) ने जिला अस्पताल में दम तोड़ दिया। मालाखेड़ी निवासी ऑटो चालक मकसूद पिता रहूफ खान (30) गंभीर है। उसकी श्वांस नली बाहर निकल आई। ब्रेन की रक्त नली क्षतिग्रस्त हो गई। उसे नर्मदा अस्पताल से भोपाल रैफर किया। 

बांद्राभान में वैध खदानें नहीं फिर डंपर क्यों गया? Why did not the valid mines in Bandra Bhavan or the dumpers


बांद्राभान के तवा पुल के उस पार एक भी वैध रेत खदान नहीं हैं। वहां केवल रेत चोरी करने के लिए डंपर और ट्रैक्टर ट्रॉली जाते हैं। कार्रवाई के डर से ड्राइवर अंधाधुंध रफ्तार से डंपर दौड़ाते हैं इससे हादसे होेते हैं। एक माह पूर्व खनिज विभाग ने भी बांद्राभान के दूसरी तरफ अवैध स्टॉक जब्त किया था। हालांकि पूरी तरह रोक नहीं लग पाई। जब उस क्षेत्र में रेत की वैध खदानें हैं ही नहीं फिर मंगलवार को डंपर वहां क्यों गया‌? ग्रामीणों के मुताबिक करीब 8 डंपर तेज रफ्तार से गुजरे। एक ने हादसा कर दिया। गूजरवाड़ा कांड के बाद फिर गई दो जानों के जिम्मेदारी कौन लेगा‌? पुलिस-प्रशासन की नाकामी से रेत चोर अब लोगों की जान के दुश्मन बन गए हैं। 

ग्रामीणों ने की थी DUMPERS पर रोक लगाने की मांग फिर भी दौड़ रहे हैं डंपर 


अवैध रेत से भरे ओवरलोड डंपरों से जिले भर के लोग परेशान हैं। 25 जुलाई को मालाखेड़ी के लोगों ने भी बांद्राभान मार्ग पर डंपरों के आवागमन पर रोक लगाने की मांग एसपी अरविंद सक्सेना के नाम ज्ञापन देकर की थी। ग्रामीणों से गूजरवाड़ा हादसे का हवाला देकर दुर्घटना की आशंका जताई थी। हालांकि प्रशासन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। 

हादसे में ये घायल 

सुशील पिता मदन खरे (25) रेवापुर हरदा, जीवनलाल मालवीय (60) सांगाखेड़ा, फूलचंद्र पिता हब्बा सराठे (65) सांगाखेड़ा, सुनीता मोहन (40) सांगाखेड़ा घायल हो गए। डंपर एमपी 05 जी 8022 का रजिस्ट्रेशन शिशुपाल सिंह राजपूत उर्फ मुट्ठा सेठ के रिश्तेदार वीरेंद्र राजपूत के नाम पर है। पुलिस ने फरार ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->