शिवराज सिंह ने पहली बार गिनाया कमलनाथ का भ्रष्टाचार | MP ELECTION

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने पहली बार कमलनाथ को भ्रष्ट नेता बताया है। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में कमलनाथ फेमिली के 5 स्टार होटल का मामला उठाया। बता दें कि सीएम शिवराज सिंह चौहान और कमलनाथ अच्छे दोस्त माने जाते थे। चुनाव में भाजपा का पूरा अभियान 'बस करो महाराज' ज्योतिरादित्य सिंधिया पर फोकस्ड था। कमलनाथ को लेकर शिवराज सिंह ने सभाओं में कोई ऐसी बात नहीं की जो वायरल हो जाए। 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कोलार विधानसभा में पार्टी प्रत्याशी रामेश्वर शर्मा के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होेने कहा कि कमलनाथ कहते हैं कि पुराना तवा हो जाए, तो इसे बदल देना चाहिए। लेकिन सबसे पुराना तवा तो कमलनाथ ही हैं उन्हें ही सबसे पहले बदलना चाहिए। कब से रखा है, यदि बदलाव की बात है तो वहीं से शुरू करो। उन्होंने कहा कि कमलनाथ ने हिमाचल प्रदेश में व्यास नदी के किनारे अपनी फाइव स्टार होटल के लिए नदी का मुंह मोड़ दिया था, जिसके कारण बाढ़ आई थी। लेकिन जब मंत्री बने तो इसकी मंजूरी करवा ली और होटल तान दी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया दूध के धुले बन रहे हैं और आजकल गले में नींबू-मिर्ची की माला पहनकर घूम रहे हैं। वे 44 साल से सीधी का केस लड़ रहे हैं और ट्रस्टों की जमीन बेचकर अपना घर भर रहे हैं। इनके नेता जो भ्रष्टाचार के आंकठ में गले-गले तक डूबे हुए हैं वे हम पर आरोप लगा रहे हैं।