क्या आप जानते हैं, शिवराज सिंह को भाजपा में 'पप्पू' कहते थे

28 October 2018

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह को मध्यप्रदेश में 'मामा' कहकर पुकारा जाता है। वो खुद को 'मामा' ही प्रचारित करते हैं परंतु क्या क्या आप जानते हैं कि शिवराज सिंह भी पहले 'पप्पू' कहा जाता था। उनके गांव में नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी में लोग उन्हे 'पप्पू' कहते थे। मप्र का मुख्यमंत्री बनने से पहले उनका भी 'पप्पू' के नाम ही मजाक उड़ाया जाता था। 

वरिष्ठ पत्रकार धीरेंद्र के झा ने अपने एक लेख में बताया है कि बहुत से लोग इस बारे में नहीं जानते हैं कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पहले ‘पप्पू’ संबोधन से, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी मजाक बनाया जाता था। 2005 में मुख्यमंत्री बनने से पहले उनके राजनीतिक करिअर के ज्यादातर हिस्से में इस शब्द का प्रयोग चौहान का मजाक बनाने के लिए किया जाता था, जो उनके बारे में पार्टी के भीतर और बाहर आम धारणा को बयां करता था लेकिन एक बार राज्य के शीर्ष पद पर पहुंचाने के बाद चीजें तेजी से बदलीं। बिना कोई शोर किए काफी कम समय में मध्य प्रदेश के ‘पप्पू’ का रूपांतरण एक नए अवतार में हो गया। 

शिवराज सिंह को 'मामा' संबो​धन किसने दिया
पत्रकार धीरेंद्र के झा बताते हैं कि इस बात को लेकर एक राय नहीं है कि आखिर नए मुख्यमंत्री के लिए ‘मामा’ शब्द का प्रयोग किसने किया, लेकिन कई लोगों का यह मानना है कि यह नया उपनाम उनके लिए चमत्कारिक साबित हुआ। एक तरफ इसने जनता की स्मृति से ‘पप्पू’ उपाधि को मिटा दिया और दूसरी तरफ इसने चौहान को उनके समर्थकों के बीच तत्पर व्यक्ति के तौर पर पेश करने में मदद की, जबकि उनके विरोधी लगातार उनकी नाकामियों की लंबी फेहरिस्त गिना रहे थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week