मध्यप्रदेश में अब नए 'रेवाखंड' राज्य की मांग, हजारों हाथ उठे | MP NEWS

01 October 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश के जबलपुर में आयोजित 'पृथक रेवाखंड राज्य महासमागम' में पृथक राज्य बनाने की मांग जोरशोर से उठाई गई। संगठन 'जय रेवाखंड' का प्रदेशाध्यक्ष आशीष त्रिवेदी को चुना गया। दमोह नाका स्थित जनक्रांति चौक पर आयोजित समागम में राज्य के 25 जिलों के प्रतिनिधि पहुंचे। वरिष्ठ अािवक्ता एवं जय रेवाखंड के संस्थापक आदर्श मुनि त्रिवेदी ने कहा, 'प्राकृतिक संपदा की ²ष्टि से संपन्न भूभाग के सपनों, विकास एवं संभावनाओं को 62 वर्ष में सरकारें चलाने वाले हर राजनीतिक दल ने बुरी तरह कुचला है, जिसका हम हिसाब लेंगे। रेवाखंड की अकूत संपदा का दोहन कर मध्य भारत क्षेत्र मात्र का विकास करने और हमारा शोषण करने वालों से निपटने की ताकत जय रेवाखंड ने विकसित की है।'

'जय रेवाखंड' के प्रदेश अध्यक्ष आशीष त्रिवेदी ने कहा कि आज 24,75,390 युवा व समर्पित प्राथमिक सदस्यों के साथ जय रेवा खंड इस अंचल की सबसे बड़ी ताकत है। अब एक भी क्षण कोई शोषण उपेक्षा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। केंद्र सरकार से विशेष आíथक पैकेज चाहिए। रेवाखंड राज्य की महाकौशल, विध्य व बुंदेलखंड की कम से कम 85 सीटों में कोई राजनीतिक दल जय रेवाखंड के बिना जीतने की कल्पना छोड़ दे।

महासमागम में आशीष त्रिवेदी एडवोकेट को समस्त प्रतिनिधियों ने फिर सर्वसम्मति से 'जय रेवाखंड' का प्रदेश अध्यक्ष अगले दो वर्षो के लिए चुना। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री बृजेश दुबे ने किया।

महासमागम में रेवाखंड राज्य के लिए विशेष आर्थिक पैकेज, 5000 रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता, विकास के नाम पर विस्थापन के विरुद्ध किसानों की पूर्ण ऋणमाफी आदि अनेक प्रस्ताव पारित किए गए। साथ मदन महल पहाड़ी से विस्थापित हो रहे 16 ,000 परिवारों में से प्रत्येक को 1000 वर्ग फीट के प्लट दिए जाने का प्रस्ताव भी पारित किया गया।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week