GWALIOR: संगीत विश्वविद्यालय में छात्रा का सामूहिक यौन शोषण | MP NEWS

04 October 2018

भोपाल। ग्वालियर स्थित राजा मानसिंह तोमर संगीत एवं कला विश्वविद्यालय (Raja Man Singh Tomar University) में एक छात्रा के सामूहिक यौन शोषण का मामला सामने आया है। छात्रा के पिता ने यूनिवर्सिर्टी के 2 ​असिस्टेंट प्रोफेसर्स पर आरोप लगाया है। आरोपियों में से एक की पत्नी पुलिस अधिकारी है एवं इन दिनों जबलपुर संभाग में पदस्थ है। मामले में विभागीय कार्रवाई शुरू हो गई है। कुलपति को हटाकर धारा 57 लागू कर दी गई है परंतु अब तक आरोपियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है। 

पीड़ित छात्रा के पिता ने उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया को पत्र लिखा था। जिसमें उन्होंने बताया कि गायन विभाग और चित्रकला विभाग के दो सहायक प्राध्यापकों पर बेटी को चेंबर में बुलाकर यौन शोषण करते थे। यह शिकायत राज्यपाल, मानवाधिकार आयोग, महिला आयोग और संस्कृति संचालनालय को भी भेजी गई थी। मंत्री पवैया द्वारा टीप लगाकर संस्कृति विभाग को भेजी गई शिकायत के मुताबिक चित्रकला के सहायक प्राध्यापक ने उनकी बेटी को अपने कमरे में बुलाया। वहां गायन विभाग के एक सहायक प्राध्यापक भी पहले से मौजूद थे। इसके बाद कमरा बंद कर उनमें से एक ने बेटी का मुंह पकड़कर कहा कि अगर आवाज निकाली तो तुम्हें परीक्षा में फेल कर दूंगा। इसलिए हम लोग जैसा कह रहे हैं, वैसा ही करो।

इसके बाद दोनों ने बेटी का यौन शोषण किया। इसके बाद धमकी भी दी कि यदि इस घटना के बारे में किसी को भी बताया तो उसे जान से मार देंगे। घटना के बाद बेटी ने इसकी शिकायत कुलपति से की तो उन्होंने कह दिया कि विवि में ऐसी घटनाएं आए दिन होती रहती हैं। जिन दो शिक्षकों पर दुष्कर्म के आरोप लगे हैं, वे उनके काफी नजदीक माने जाते हैं। इनमें से एक प्रोफेसर की पत्नी ग्वालियर में ही एएसपी के पद पर पदस्थ रही हैं। वर्तमान में वे जबलपुर में पदस्थ हैं। 

पवैया ने शिकायत मिलने के बाद 22 जून को इसे एसीएस संस्कृति को जांच के लिए भेज दिया था। संस्कृति विभाग ने 2 अगस्त को इस पत्र को जांच के लिए संस्कृति संचालक को भेज दिया। संस्कृति संचालनालय ने विवि के कुलसचिव को पत्र भेजकर इस मामले की जांच 7 दिन के अंदर कराने को कहा। इसके बाद विवि ने एक जांच कमेटी का गठन किया। मामले की जांच की जा रही है। 

राज्यपाल ने कुलपति को हटाया
राज्यपाल महोदय ने घटना सामने आने के बाद विवि की कुलपति प्रो. लवली शर्मा को हटा दिया गया है। इसके साथ ही विवि में धारा 57 लागू कर दी गई है। कुलपति का प्रभार संस्कृति विभाग के अपर मुख्य सचिव मनोज श्रीवास्तव को दिया गया है।

संगीत विवि के कुलपति को हटाने तथा धारा 57 लगाने के निर्देश जारी हुए हैं, शासन ने कुलपति का चार्ज मुझे दिया है। 
मनोज श्रीवास्तव, एसीएस, संस्कृति विभाग

कुछ प्रोफेसरों को नियम विरुद्ध नियमित किया जा रहा है। मैंने इस पर आपत्ति की थी। इस वजह से ही मुझे हटाया गया है। 
प्रो. लवली शर्मा, पूर्व कुलपति, संगीत विवि
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->