शिवराज की सभा के लिए स्कूली बच्चों को यूनिफार्म में ले आए: युवा टाउन हॉल | BHOPAL MP NEWS

28 October 2018

भोपाल। नवमतदाताओं के 1 करोड़ वोटों को लुभाने के लिए सीएम शिवराज सिंह ने 'युवा टाउन हॉल' कार्यक्रम का आयोजन किया था। प्लान था पीएम नरेंद्र मोदी की तरह युवाओं को आकर्षित करेंगे परंतु युवा आए ही नहीं। भीड़ दिखाने के लिए फिर वही फार्मूला यूज किया गया। स्कूलों से बच्चे बुलवा लिए गए। हालात यह थे कि बच्चों को यूनिफार्म में ही ले आए। जबकि वो 18 साल के भी नहीं हुए हैं। 

थोड़ी देर बाद कार्यक्रम स्थल पर और छोटे-छोटे छात्रों को पहुंचते देखा गया


नए मतदाताओं को रिझाने के लिए भाजपा ने प्रदेश की सभी 230 विधानसभा सीटों पर 'युवा टाउन हॉल' का आयोजन किया गया था। मुख्य कार्यक्रम भोपाल में रवीन्द्र भवन में आयोजित हुआ जहां से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भाषण सुनाया गया। चौंकाने वाली बात यह है कि युवा मोर्चा के कार्यक्रम में युवा मतदाताओं की जगह बड़ी संख्या में स्कूल ड्रेस में छात्राओं को लाया गया। ये सभी छात्राएं 14 से 16 आयु की थीं। जब उनसे पूछा गया कि यहां क्यों आई हैं? छात्राओं ने जवाब दिया कि उनसे मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में आने को कहा गया था। मीडिया को छात्राओं से बातचीत करते देख भाजपा ने छात्राओं को वहां से रवाना किया। इसके थोड़ी देर बाद कार्यक्रम स्थल पर और छोटे-छोटे छात्रों को पहुंचते देखा गया। 

ये थी रणनीति: 
चुनाव में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। टाउन हॉल से जब प्रदेश के 10 लाख नौजवान सीधे तौर पर जुड़ेंगे। कार्यक्रम में परंपरागत कार्यकर्ताओं के अलावा 18 से 22 साल के युवाओं को बुलाया गया। टाउनहॉल में युवा डॉक्टर, इंजीनियर, उद्यमी, स्वयंसेवी संस्थाओं में काम करने वाले युवाओं के साथ समाज में रचनात्मक काम करने वाले युवाओं को भी आमंत्रित किया गया था परंतु वो नहीं आए। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week