Loading...

MP NEWS: सवर्ण घरों में काला झंडा लगाएंगे, नेताओं को चूड़ियां पहनाएंगे: काला कानून विरोधी मोर्चा

भोपाल। एक्ट्रोसिटी एक्ट के विरोध में सवर्णों ने राजनेताओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। एक्ट के विरोध में दर्जनों भाजपा नेताओं ने पार्टी का दामन “काला कानून विरोधी मोर्चा” का गठन कर लिया है। मोर्चा के संयोजक रघुनंदन शर्मा और मीडिया प्रभारी धर्मेन्द्र शर्मा ने पत्रकार वार्ता में पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि मोर्चा सभी सवर्ण संगठनों के साथ मिलकर 17 सितम्बर से पदयात्रा निकालेगा। यह पदयात्रा होशंगाबाद जिले के सिवनी मालवा में विशाल आमसभा के बाद शुरु होगी।  20 सितंबर को पदयात्रा राजधानी भोपाल पहुचेगी, जहां से सवर्ण समाज सभी संगठनों के हजारों पदाधिकारी मुख्यमंत्री निवास का घेराव करने निकलेंगे।

घरो में लगाऐंगे काले झंडे
यात्रा प्रभारी धर्मन्द्र शर्मा कक्का जी ने ऐलान किया है कि सवर्ण समाज के लोग अपने अपने घरों पर काले झंडे लगाकर सभी राजनैतिक दलों के प्रत्याशियों का बहिष्कार करेंगे। उनका कहना है कि सवर्ण समाज एक साथ है समाज सडकों पर आंदोलन करने के बजाए घरों पर बैनर, पोस्टर, काले झंडे लगाकर पुरजोर तरीके से अपना विरोध दर्ज करायेगा।

महिलाएं मुंह काला कर चूडियां करेंगी भेंट
अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा की जिलाध्यक्ष राखी परमार और करणी सेना की प्रदेश प्रवक्ता किरण सिंह राठौड ने कहा है कि जब तक एससी-एसटी अध्याधेश पूर्णत: वापस नही लिया जाता तब तक सवर्ण समाज का विरोध जारी रहेगा आने वाले दिनों विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान किसी भी दल का प्रत्याशी उनके घर वोट मांगने आयेगा तो सवर्ण समाज के घरों की महिलाएं उनका मुंह काला कर चुडियां भेंट करेंगी।

ये रहे मौजूद-
पंडित धर्मेन्द्र शर्मा अध्यक्ष ब्रह्म समागम सवर्णजन कल्याण संगठन, रघुनंदन शर्मा संयोजक काला कानून विरोधी मोर्चा, पुष्पेन्द्र मिश्रा अखिल भारतीय बाह्मण महासभा, पंडित चंद्र शेखर तिवारी प्रगतिशील ब्रह्मण संगठन, सुनील शास्त्री सर्व ब्रह्मण युवा समिति, किरण सिंह राठौड करणी सेना, राखी परमार अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा, बंटी सिंह परिहार जिलाध्यक्ष अभा क्षत्रिय महासभा संदीप पाठक, अनिल पाठक, राजा मुथैया, विशाल जैन, राजेश शर्मा, रामनानायण अवस्थी, सहित सवर्ण समाज के कई संगठन के पदाधिकारी शामिल हुए। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com